पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Panna
  • AC, Cooler, Fan Installed In The Hospital, Patients And Relatives Are Burning In The Heat Of Scorching Heat

पन्ना जिला अस्पताल में मरीजों को असुविधा:हॉस्पिटल में लगे एसी, कूलर, पंखा खराब, भीषण गर्मी की तपन में तप रहे मरीज और परिजन

पन्नाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला चिकित्सालय पन्ना इन दिनों प्रबंधन की लापरवाही की चलते इस भीषण तपन में मरीज व उनके परिजन तप रहे हैं, क्योंकि जिला अस्पताल के विभिन्न वार्डों में लगे ऐसी व कूलर शोपीस बने हुए है। आधे से ज्यादा ऐसी और कूलर बंद पड़े हुए है और प्रबंधन सिर्फ कागजों के माध्यम से जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में लगा हुआ है।

भले ही केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा स्वास्थ्य विभाग के तहत प्रदेश की जनता को सर्वसुविधायुक्त स्वास्थ्य व्यवस्था देने के लिए पानी की तरह पैसा बहा रही है। बावजूद उसके पन्ना जिला अस्पताल का प्रबंधन शासन के बजट को कागजी कार्रवाई कर ठिकाने में लगाने में जुटा है।

यह आरोप मरीज व उनके परिजन इसलिए लगा रहे है, क्योंकि पन्ना जिले में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच रहा है।और इस भीषण गर्मी में अस्पताल में भर्ती मरीज एवं उनके परिजन तपन से परेशान हो रहे है, क्योंकि अस्पताल के ऐसी व कूलर अधिकतर बंद पड़े हुए है।

जिला अस्पताल में प्रबंधन की व्यवस्थाओं के हाल बेहाल है। हम तस्वीरों साफ दिख रहा है सरकार की मंशा के अनुरूप जिला अस्पताल प्रबंधन क्यों चल रहा है। अस्पताल गैलरी में पड़े मरीज व उनके परिजन कही से भी थोड़ी हवा आने का इंतजार कर रहे है, जो 45 डिग्री तापमान में उन्हें राहत दें।

वार्डों के अंदर कूलर तो है मगर वह हवा नहीं दे रहे हैं, इसलिए मरीज उनके अंदर चप्पल रख रहे है। कुछ कूलर चालू हालत में तो है, लेकिन कोई उनमें पानी भरने वाला नहीं है। इसलिए वह भी गर्म हवा दे रहे हैं। दीवारों पर लगे एसी के ऑन होने की सिर्फ लाइट जल रही है। ये हाल जिला चिकित्सालय के लगभग सभी वार्डों का है। जिसका खामियाजा मरीज और उनके परिजन भुगत रहे हैं।

यही कारण है कि जिला अस्पताल आने वाले मरीज और उनके परिजन यहां आकर पहले से ज्यादा बीमार हो जाते हैं। वहीं अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ एलके तिवारी से बात की गई। तो उन्होंने कहा कि बंद ऐसी कूलर जल्द रिपेयर करा दिए जाएंगे और इस लापरवाही में शामिल कर्मचारियों पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...