पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Indore Ranked India's Cleanest City; Madhya Pradesh News | Swachh Survekshan 2021 Ranking Report

इंदौर लगातार 5वें साल सबसे साफ:स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 के नतीजे आते ही CM शिवराज बोले-वाह भिया! छा गया इंदौर; भोपाल देश में सातवीं पोजिशन पर

मध्यप्रदेश7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में मध्यप्रदेश के इंदौर शहर का एक बार फिर डंका बजा है। इंदौर 5वीं बार भी देशभर में अव्वल आया है। वर्ष 2017 से इंदौर देशभर में नंबर-1 पर आ रहा है। इस बार इंदौर ने सफाई का 'पंच' लगा दिया। सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज में भी इंदौर अव्वल रहा। इसमें 12 करोड़ रुपए का पुरस्कार मिला। राज्य कैटेगरी में मध्यप्रदेश को तीसरा स्थान मिला है। मध्यप्रदेश को कुल 35 अवॉर्ड मिले हैं। इंदौर के पांचवीं बार टॉप रहने पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का इंदौरी अंदाज दिखा। उन्होंने ट्वीट किया- वाह भिया! छा गया अपना इंदौर...

दस लाख से ज्यादा आबादी वाले टॉप 20 शहरों में मप्र के चारों बड़े शहर शामिल हैं। इंदौर-1, भोपाल-7, ग्वालियर-15, जबलपुर-20 नंबर पर है। 10 लाख तक की आबादी में उज्जैन का पांचवां नंबर है। वहीं तीन लाख की आबादी वाले शहर में देवास को छठवां स्थान मिला है।

दिल्ली के विज्ञान भवन में राष्ट्रपति डॉ. रामनाथ कोविंद की मौजूदगी में विजेता शहरों और प्रदेशों को सम्मानित किया जा रहा है। देश के सबसे साफ शहरों की श्रेणी में इंदौर की प्रबल दावेदारी मानी जा रही थी। हुआ भी वैसा ही। साल 2017 से इंदौर नंबर-1 पोजिशन पर है। लगातार पांचवीं बार उसे यह खिताब मिला है। राष्ट्रपति कोविंद ने नंबर-1 पर रहे इंदौर को अवॉर्ड दिया। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी मंच पर मौजूद हैं।

इंदौर का अवॉर्ड लेने के लिए नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, इंदौर सांसद शंकर लालवानी, विभाग के प्रमुख सचिव मनीष सिंह, इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह, इंदौर निगमायुक्त प्रतिभा पाल आदि दिल्ली पहुंचे थे। भोपाल से भी कई जनप्रतिनिधि और अधिकारी कार्यक्रम में शामिल हुए।

दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मप्र के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह को अवॉर्ड देते हुए।
दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मप्र के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह को अवॉर्ड देते हुए।

भोपाल समेत 6 शहरों ने किया था दावा
स्वच्छ सर्वेक्षण में बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहरों की श्रेणी में इंदौर-भोपाल समेत उज्जैन, देवास, होशंगाबाद और बड़वाह को नामांकित किया गया था। भोपाल ने सफाई मित्र, स्टार रेटिंग और स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए दावा किया। पिछले साल भोपाल देश के सबसे साफ शहरों में सातवें नंबर पर था। इस बार रैंकिंग में सुधार हुआ है।

पिछले सर्वेक्षण में 27 सम्मान
स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में प्रदेश को कुल 27 सम्मान मिले थे। इसमें 18 शहर स्टार रेटिंग और 9 शहर स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए थे। इस बार कुल 35 अवॉर्ड मिल रहे हैं। इनमें से 21 अवॉर्ड विज्ञान भवन में चल रहे राष्ट्रीय कार्यक्रम में मिल रहे हैं।

ये भी पढ़िए:-

इंदौर इसलिए 5वीं बार नंबर-1:21.3KM कान्ह और 12.4KM लंबी सरस्वती नदी को जिंदा कर दिया, कभी लोग इसे नाला समझते थे

स्वच्छता में इंदौर के पंच का सफर:घर-घर से कचरा उठाने वाला इंदौर इससे कमाने वाला बन गया, सिर्फ कचरे से सालाना 20 करोड़ आमदनी

भोपाल देश का 7वां सबसे साफ शहर:बेस्ट सेल्फ सस्टेनेबल कैपिटल का अवाॅर्ड भी