पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • From Researcher To Engineer Needed; Science Or Agricultural Science Subject Required In 12th

डेयरी टेक्नोलॉजी में करियर:इस फील्ड में नौकरियां तो हैं ही, अपना बिजनेस शुरू कर हर महीने 50 हजार रुपए तक कमा सकते हैं

मध्यप्रदेश4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना काल में मेडिकल के बाद अगर किसी फील्ड ने ग्रोथ की है, तो वह है डेयरी। दूध और उससे बने प्रोडक्ट के रोजमर्रा के जीवन में प्रमुख स्थान हैं। ऐसे में इसमें भविष्य में करियर बनाने के सबसे ज्यादा ऑप्शन हैं। इसे श्रेष्ठ करियर ऑप्शन के रूप में देखा जाने लगा है। इस फील्ड में रिसर्चर से लेकर इंजीनियर तक की जरूरत है। इसके लिए 12वीं में साइंस या कृषि विज्ञान विषय लेना जरूरी है। आइए जानते हैं एक्सपर्ट आकाश इंस्टीट्यूट भोपाल के असिस्टेंट डायरेक्टर रणधीर सिंह से...

दूध, घी, पनीर और क्रीम उपयोग करने लायक कैसे बनाया जाता है। इसके लिए टेक्नोलॉजी और सुरक्षा मानकों का इस्तेमाल किया जाता है। यह डेयरी टेक्नोलॉजी के जरिए ही संभव है। डेयरी फार्मिंग से आधुनिक टेक्नोलॉजी से दूध और दूध से बनने वाले विभिन्न उत्पादों के बारे में बताया जाता है।

रोजगार के कई विकल्प, खुद का बिजनेस कर सकते हैं

डेयरी टेक्नोलॉजी में करियर बनाना आज सबसे बेहतर करियर ऑप्शन है। भारत दुग्ध उत्पादन में दुनिया में पहले नंबर पर है। वर्तमान में डेयरी टेक्नोलॉजी में रोजगार के कई विकल्प हैं। इसके साथ ही आप खुद भी अपना बिजनेस कर सकते हैं।

इस तरह करें कोर्स

डेयरी टेक्नोलॉजी कोर्स करके डेयरी टेक्नोलॉजी फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं। इसके लिए छात्र को विज्ञान या कृषि विज्ञान में 50% अंक के साथ पास होना चाहिए। इन कोर्स में दूध की पैकेजिंग और प्रोसेसिंग, डेयरी इक्विपमेंट एंड यूटिलिटीज, प्रोडक्शन, डेयरी प्रोडक्ट की मार्केटिंग, आधुनिक तकनीक के द्वारा दूध उत्पादन के बारे में बताया जाता है।

ये हैं करियर ऑप्शन

  • शिक्षा
  • सलाहकार
  • डेयरी इंजीनियर
  • रिसर्चर
  • डेयरी टेक्नोलॉजिस्ट
  • संयंत्र प्रबंधक

खुद के बिजनेस का मौका

पहले तो इंटर्न के रूप में किसी भी डेयरी से शुरुआत कर सकते हैं। इसके बाद किसी भी कंपनी में जॉब कर सकते हैं। यही नहीं, खुद का बिजनेस खड़ा कर सकते हैं।

ये भी पढ़िए:-

फूड टेक्नोलॉजी करियर में कई ऑप्शन:शुरुआती पैकेज 4 लाख से 14 लाख तक; रिसर्च से टॉप कंपनियों में पाएं बेहतरीन जॉब

फॉरेंसिक साइंस से इंटेलिजेंस तक में जाने का मौका:सरकारी, प्राइवेट एजेंसी और लैबोरेटरी में अच्छे करियर ऑप्शंस; टॉप इंस्टीट्यूट में MP की हरिसिंह गौर विवि शामिल

बायोकेमेस्ट्री से करियर को कीजिए ब्राइट, जानिए एक्सपर्ट से:मेडिसिन से लेकर एग्रिकल्चर, फारेंसिक साइंस और पर्यावरण तक में फील्ड खुल जाती है

IOQ में सक्सेस का मंत्र:इंडियन ओलंपियाड क्वालीफाइ करने के लिए अलग तरह से सोचना होगा; रटने की जगह पिछले पेपर हल करें

IOQ दिलाता है इंटरनेशनल पहचान:इंडियन ओलंपियाड क्वालीफाइ करने वालों को अच्छे कॉलेज-जॉब के अवसर ज्यादा; कॉम्पिटिटिव एग्जाम का एक्सपोजर भी

मैथ्स-साइंस लेकर बने वैज्ञानिक, पैसा भी मिलेगा:11वीं, 12वीं और B.SC फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट्स को भी मौका; फॉर्म भरने के लिए 10वीं में 75% होना जरूरी

IIT की तैयारी खुले दिमाग से करें:रटने से काम नहीं चलेगा; मैथ्स, केमिस्ट्री, फिजिक्स को जीना होगा, कॉन्सेप्ट क्लियर होने पर सफलता

JEE मेन में शॉर्टकट नहीं चलता:मैथ्स की चार स्टेप में प्लानिंग करें; कठिन सवाल में न उलझें, NTA abbhyas QUSEYION से तैयारी करें

एक्सपर्ट से जानिए कैसे पाएं NEET में सक्सेस:बायो में फुल मार्क्स लाने का फॉर्मूला; एनसीईआरटी में बोल्ड और हाई लाइट वर्ड से ही बनते हैं अधिकांश प्रश्न

कॉम्पिटिटिव एग्जाम के लिए 4 बातें जरूरी:एग्जाम और सब्जेक्ट क्या है, किस तरह के सवाल आते हैं; पहले से टारगेट तय करना जरूरी

एग्जाम के पहले 3 बातों का ध्यान रखें:तनाव के साथ ही 10 से 12 मिनट खराब होने से बचते हैं; रिजल्ट भी 15% से 20% बेहतर होगा

NEET में फिजिक्स में अच्छे स्कोर का मंत्र:पेपर में 67% सरल सवालों पर फोकस कर 100 मार्क्स हासिल कर सकते हैं; इतना ही करना काफी