पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • 2 In Bhopal, Half An Inch Of Water Fell In Indore; 3 Inches Of Rain In Gwalior, Burhanpur Remained Cut Off From Maharashtra For A Few Hours

MP में झमाझम:श्योपुर के कराहल में 24 घंटे में 12 इंच बारिश, कस्बे में घुसा पानी; भोपाल में 2 और इंदौर में आधा इंच पानी गिरा

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम से पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश हुई है। श्योपुर जिले के कराहल में 24 घंटे में 12 इंच से ज्यादा की बारिश हुई है। यही हाल श्योपुर और बड़ौदा कस्बे का भी है। कराहल और बड़ौदा कस्बे में पानी घुस गया है। श्योपुर के बाद सबसे ज्यादा गुना और दतिया में 4-4 इंच बारिश हुई है। भारी बारिश से श्योपुर, गुना, रायसेन, बैतूल, दतिया, विदिशा में फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना व्यक्त की है।

भोपाल समेत पूरे प्रदेश में बीते 24 घंटों से लगातार बारिश हो रही है। भोपाल में 2 इंच तक बारिश होने से जगह-जगह पानी भरने से ट्रैफिक जाम के हालत बन गए, तो इंदौर में भी आधा इंच तक बारिश हो गई। होशंगाबाद, बुरहानपुर और ग्वालियर में दो से लेकर 3 इंच तक पानी गिरा। कुछ घंटों की बारिश से बुरहानपुर का तो महाराष्ट्र से संपर्क तक टूट गया था। बुरहानपुर से महाराष्ट्र को जोड़ने वाले बहादरपुर रोड पर नाले का पानी उफान पर होने से मध्यप्रदेश-महाराष्ट्र का संपर्क करीब एक घंटे तक टूटा रहा। इंदौर-इच्छापुर हाईवे पर भी ट्रैफिक जाम जैसे हालत रहे। उधर, बुंदेलखंड और महाकौशल और विंध्य के इलाकों में ज्यादा बारिश नहीं हुई।

अगले 24 घंटे में यहां बारिश
विदिशा, रायसेन, दतिया, टीकमगढ़ और भिंड में भारी बारिश की संभावना, इसके साथ ही भोपाल, सांची, सागर, अशोक नगर, ग्वालियर, मुरैना, छतरपुर, पन्ना, मंडला, बालाघाट और डिंडौरी में अगले 24 घंटे तक गरज-चमक के साथ बारिश।

श्योपुर के बड़ौदा कस्बे में भरा पानी।
श्योपुर के बड़ौदा कस्बे में भरा पानी।

श्योपुर के कराहल और बड़ौदा कस्बों के हालात बिगड़े
रविवार रात भर श्योपुर जिले में झमाझम बारिश हुई, जिससे सीप, अमराल, बावंदा आर बंजारा डैम नदियां उफान पर आ गईं। इसके साथ ही क्षेत्र में खेतों में खड़ी धान और सोयाबीन की फसल तेज हवा और बारिश के चलते खेतों में पसर गई। कराहल में साढ़े 12 इंच, श्योपुर शहर में 5 इंच और बड़ौदा में 7 इंच से ज्यादा बारिश हुई है। इसकी वजह से कराहल, बड़ौदा कस्बे में पानी घुस गया। श्योपुर में औसत बारिश 32 इंच है, जबकि अब तक 55 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है।

श्योपुर में धान की फसल बिछ गई।
श्योपुर में धान की फसल बिछ गई।

गांधी सागर बांध और उज्जैन के गंभीर बांध के गेट खोलने पड़े
मंदसौर के गांधी सागर डैम का वाटर लेवल 1312 फीट पहुंच गया। डैम के एक स्लूज गेट खोला गया। बांध से 25000 लीटर पानी प्रति सेकेंड छोड़ा जा रहा है। उज्जैन और आसपास के इलाकों में बारिश की वजह से गंभीर बांध का एक गेट खोलना पड़ा है। बांध प्रभारी अशोक शुक्ला ने बताया कि रविवार रात से गेट नंबर 3 को 25 से 50 CM के बीच खुला रखा है।

यह सिस्टम करा रहा बारिश
मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश ने बताया कि वर्तमान में दक्षिणी महाराष्ट्र क्षेत्र में निम्न दाब क्षेत्र समुद्र तल से 5.8 किमी की ऊंचाई तक फैला है। वहीं पूर्व-पश्चिम ट्रफ लाइन अरब सागर में मर्तबान की खाड़ी से निम्न दाब क्षेत्र तक है। पश्चिमी विक्षोभ दक्षिणी अफगानिस्तान के ऊपर चक्रवातीय गतिविधि के रूप में मध्य और ऊपरी क्षोभमंडल की पछुवा पवनों के बीच एक ट्रफ के साथ है। कर्नाटक से लेकर तमिलनाडु तक अन्य ट्रफ लाइन गुजर रही है। इसी कारण मध्यप्रदेश में अच्छी बारिश हो रही है।

इस सिस्टम से हो रही बारिश।
इस सिस्टम से हो रही बारिश।

यहां हुई ज्यादा बारिश
प्रदेश में बीते 24 घंटों के दौरान जमकर बारिश हुई। सबसे ज्यादा बारिश होशंगाबाद, बुरहानपुर, ग्वालियर में 3 इंच, भोपाल, रायसेन और सतना में 2 इंच तक पानी गिरा। इसके अलावा इंदौर, बैतूल, धार, खंडवा, खरगोन, पचमढ़ी, छिंदवाड़ा, मंडला और टीकमगढ़ में भी बारिश हुई।

भोपाल के रायसेन रोड पर बिजली कालोनी के पास इस तरह सड़क पर पानी भर गया।
भोपाल के रायसेन रोड पर बिजली कालोनी के पास इस तरह सड़क पर पानी भर गया।
बुरहानपुर में तीन इंच तक पानी गिरने से सड़कों पर पानी भर गया।
बुरहानपुर में तीन इंच तक पानी गिरने से सड़कों पर पानी भर गया।