पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिवनी से कान्हा लाए बाघ:भूख और चोट लगने से कमजोर हो गए दो शावक, पार्क में किया जाएगा उपचार

मंडलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पेंच टाइगर रिजर्व सिवनी के रेस्क्यू दल ने छपारा परिक्षेत्र से लगभग 4-6 माह आयु के दो बाघ शावक का रेस्क्यू किया गया है। इन शावकों को विशेष उपचार के लिए कान्हा टाइगर रिजर्व लाया गया है। मंगलवार की शाम दोनों शावकों को कान्हा टाइगर रिजर्व के परिक्षेत्र मुक्की में लाया गया। वन्य जीव चिकित्सालय मुक्की के बाड़े में रखा गया है।

कान्हा पार्क के वन्यप्राणी चिकित्सक डॉ.संदीप अग्रवाल ने बुधवार को इन शावकों का परिक्षण किया। ये शावक लगभग एक सप्ताह से भोजन नहीं मिलने के कारण कमजोर हो गए हैं। एक शावक के पिछले बाएं पैर में चोट है। कान्हा टाइगर रिजर्व संचालक द्वारा भी इन बाघ शावकों का निरीक्षण किया गया।

कान्हा पार्क प्रबंधन ने बताया कि वर्तमान में निगरानी के दौरान शावकों को दिया गया भोजन संतोषजनक रूप से वे खा रहे हैं। डॉ. संदीप अग्रवाल ने बताया कि शावकों को आगामी 15 दिवस तक वन्यजीव चिकित्सालय मुक्की में रखा जाएगा। पूर्ण स्वस्थ्य होने पर घोरेला में स्थानांतरित किया जाएगा।

बाघिन की लोकेशन नहीं मिल रही

उपसंचालक कान्हा (कोर) ऋषिभा सिंह ने बताया कि पार्क के पशु चिकित्सक के माध्यम से इन शावकों उचित चिकित्सा मुहैया कराई जा रही है। इन शावकों की मां की लोकेशन ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है। मां का पता चलने पर उन्हें जंगल में छोड़ने का प्रयास किया जाएगा। यदि यह संभव नहीं हो सका तो उन्हें हम अपने सेंटर में ही रखेंगे।

खबरें और भी हैं...