पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंडला में जंगली हाथियों का मूवमेंट:सुरखी, आरोली की ओर किया रुख; कान्हा के बफर जोन व अंजनिया रेंज में गश्त कर रहे वनकर्मी

मंडला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कान्हा बफर से लगे पूर्व सामान्य वन मंडल के जंगलों में हाथियों की मौजूदगी से खतरा बना हुआ है। बुधवार शाम हाथियों की चिंघाड़ से ग्रामीण एवं वनकर्मी सतर्क हो गए और आग जलाकर हथियों को दूर करने का उपाय किया। बुधवार रात कान्हा बफर के खटिया रेंज और पूर्व सामान्य के रेंज जगमंडल अंजनिया के स्टाफ द्वारा संयुक्त गश्ती कर हथियों के मूवमेंट पर नजर रखी गई।

परिक्षेत्र अधिकारी जगमंडल लतिका तिवारी उपाध्याय ने बताया कि सायं 6 बजे सुरखीं, चरगांव आरोली क्षेत्र में हथियों की सूचना प्राप्त होने पर उपवन मंडल अधिकारी जगमंडल एनडी लोमस सहित परिक्षेत्र सहायक ककैया अर्जुन विश्वकर्मा एवं वन रक्षक राजेंद्र तेकाम, पहल सिंह मार्को के साथ गश्त की गई। रात करीब 11 बजे जंगली हाथियों का समूह ग्राम सुरखी के कक्ष क्रमांक 759 से लगा हुआ राजस्व क्षेत्र खेतों में देखा गया। जिसके बाद पैरा जलाकर उजाला किया गया, जिससे हाथी अलसुबह सुरखी बीट के कक्ष क्रमांक 760 में जंगल की ओर चले गए।

हथियों पर नजर रखने 24 घंटे गश्त

लतिका तिवारी उपाध्याय ने बताया कि ग्रामीणों की सुरक्षा और हथियों के मूवमेंट पर नजर रखने 6-6 घंटे की शिफ्ट में 4 गश्ती दल कार्य कर रहे हैं। गश्ती दल के वनरक्षक राजेन्द्र तेकाम, महेश पन्द्रों, बालसिंह ठाकुर, अभिषेक शुक्ला, मिलसिंह तेकाम, हरेंद्र चौरसिया के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणों के साथ सुबह 6 बजे से जंगल मे घूमकर हाथियों की लोकेशन ट्रैक की। जंगली हाथियों ने फसलों को नुकसान पहुंचाया है। किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं है।

उन्होंने बताया कि सुबह 7 बजे लगभग, हाथियों के समूह की वन विकास निगम मोहगांव प्रोजेक्ट के बीट के कक्ष क्रमांक 324 में प्रवेश की सूचना प्राप्त हुई है। वनविभाग द्वारा ग्रामीणों को सतर्क रहने के समझाईस के साथ साथ क्षेत्रों में अलर्ट रहने के लिए लगातार मुनादी करायी जा रही है।

खबरें और भी हैं...