पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %

किसानों ने तहसील कार्यालय में दिया आवेदन:5 साल से अटका नहर का काम, 5 गांव के किसान पानी से वंचित, नायब तहसीलदार बोले- करेंगे निराकरण

ठीकरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नहर से पानी नहीं मिलने की शिकायत लेकर तहसील कार्यालय पहुंचे किसान। - Money Bhaskar
नहर से पानी नहीं मिलने की शिकायत लेकर तहसील कार्यालय पहुंचे किसान।

एक व्यक्ति के जमीन नहर में डूब में आने से किसानों को इंदिरा सागर परियोजना की नहर का लाभ नहीं मिल रहा है। संबंधित व्यक्ति की आपत्ति से किसानों को परेशानी उठाना पड़ रही है। इस समस्याओं को लेकर किसानों ने तहसील कार्यालय में आवेदन देकर समस्या का निराकरण कर नहरों का पानी किसानों को दिलाने की मांग की है। नायब तहसीलदार ने अफसरों से चर्चाकर निराकरण करने का आश्वासन दिया।

क्षेत्र के किसान अशोक सोलंकी ने बताया इंदिरा सागर परियोजना की नहर का 40 मीटर का काम अटका हुआ है। इससे किसानों को पिछले पांच सालों से नहर का पानी नही मिल पा रहा है। जिस व्यक्ति की आपत्ति है उसे मुआवजा भी मिल चुका है। नहर निकालने में उसके द्वारा अड़चन डाली जा रही है। इससे ग्राम कपाल्याखेड़ी, केरवा, कुआं, अभाली, करामतपुरा नंदगांव व ब्राह्मणगांव के किसान को नहर का पानी नहीं मिल रहा है।

किसानों ने बताया इंदिरा सागर परियोजना की नहर डी-10का कार्य पिछले पांच सालों से अटका हुआ है। किसान भुरेसिंह पटेल, पर्वतसिंह तंवर सहित ग्रामीणों ने बताया कि प्रेमलाल बंजारा निवासी अभाली ने नहर का कार्य को रोका है। जबकि खेत मालिक को खेत का मुआवजा भी दिया जा चुका है। वही प्रेमलाल का खेत पर कब्जा होने से नहर के कार्य को गति नही मिल रही है। इससे क्षेत्र के किसान अपने खेतों में पानी नही मिलने से पांच साल से परेशान हो रहे हैं।

किसानों ने जल्द से जल्द इस समस्या का निराकरण करने की मांग की है। निराकरण नही होने पर किसान धरना प्रदर्शन करेंगे। नायब तहसीलदार सुभाष अलावा ने बताया किसानों की शिकायत पर एनवीडीए के अफसरों से चर्चाकर नहर का निरीक्षण कर समस्या का निराकरण किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...