पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Muslim Family Adamant For Not Getting The Vaccine, Went Home And Abused The Tehsildar; When The Police Reached, Got The Vaccine Done Along With The Family

खंडवा में वैक्सीनेशन को लेकर अफसर की झड़प:वैक्सीन नहीं लगवाने पर अड़ा परिवार, घर गए तहसीलदार से की अभद्रता; पुलिस पहुंची तो परिवार समेत लगवाया टीका

खंडवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीन लगवाने के लिए समझाइश देने गए तहसीलदार और परिवार के मुखिया के बीच कहासुनी। - Money Bhaskar
वैक्सीन लगवाने के लिए समझाइश देने गए तहसीलदार और परिवार के मुखिया के बीच कहासुनी।

MP के खंडवा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें एक परिवार के मुखिया और तहसीलदार के बीच कहासुनी के बाद मामला अभद्रता तक पहुंच गया। परिवार के मुखिया की दलील थी कि वह और उसका परिवार वैक्सीन नहीं लगवाएगा। पुलिस पहुंची तो परिवार समेत वैक्सीन का टीका लगवा लिया।

घटनाक्रम 17 सितंबर का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन था। इस दिन सरकार ने वैक्सीनेशन महाअभियान चलाया। टीकाकरण से छूटे परिवारों के घर-घर जाकर उन्हें टीकाकरण केंद्र पर बुलाया और वैक्सीन लगाई। लेकिन, इस दिन खंडवा में विवाद हो गया। शहर की गुल मोहर कॉलोनी में निवासरत एक परिवार ने वैक्सीन लगवाने से इंकार कर दिया। यहां तक आशा-आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और नर्सिंग स्टाफ को बदसलूकी कर भगा दिया। सूचना मिलने पर शहर तहसीलदार प्रताप अगास्या मौके पर पहुंचे तो परिवार के मुखिया ने उन्हे भी चलता कर दिया। कहा कि, आगे चलेगा वरना अफसरगिरी भूला दूंगा।

तहसीलदार ने पहले तो नम्रता से समझाया कि हम तुम्हारी जान बचाने आए है, ना कि जान लेने। इस पर भी बात नहीं बनी तो दोनों में विवाद हो गया। मामला गाली-गलौज तक आ गया। मौके पर कोतवाली टीआई बलजीतसिंह बिसेन सहित एक सब इंस्पेक्टर पहुंचे और मुखिया को पुलिस थाने लेकर आए।

तहसीलदार से बदसलूकी करने वाले को थाने ले जाती पुलिस।
तहसीलदार से बदसलूकी करने वाले को थाने ले जाती पुलिस।

प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के बाद परिवार समेत लगवाई वैक्सीन

कोतवाली टीआई बलजीतसिंह बिसेन ने बताया, संबंधित व्यक्ति पर धारा 107 और 119 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की। जिसके बाद परिवार सहित उसने वैक्सीन लगवाई। घटना के संबंध में तहसीलदार प्रताप अगास्या का कहना है कि, संबंधित परिवार के द्वारा पहले आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और नर्सिंग स्टाफ से अभद्रता की गई। मैं समझाने गया तो मुझसे भी गाली-गलौज करने लग गया। बाद में समाजजन ने उससे माफी मंगवाई और परिवार सहित उसने वैक्सीन लगवाई।

- मामले में तहसीलदार ने साधी चुप्पी

मामले में तहसीलदार प्रताप अगास्या से भास्कर रिपोर्टर ने कथन लेना चाहा। लेकिन उन्होंने साफ तौर पर इंकार कर दिया। कहा कि, हमारा मकसद सिर्फ वैक्सीनेशन कराना था। जो हमने करा दिया।

खबरें और भी हैं...