पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Investigation On The Angle Of Mutual Enmity In The Murder, Picked Up The Suspected Laborer Of The Area Who Quarreled With The Family; Apprehension Maybe The Killer Here

अक्षांश का हत्यारा कौन ?:हत्याकांड में आपसी रंजिश के एंगल पर जांच, परिवार से झगड़ा करने वाले संदेही को उठाया; हो सकता है खुलासा

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक, 3 साल का अक्षांश। - Money Bhaskar
मृतक, 3 साल का अक्षांश।

3 साल के अक्षांश की हत्या का आज चौथा दिन है लेकिन पुलिस को अब तक हत्यारों का सुराग तक नहीं मिल सका है। हत्याकांड में आपसी रजिंश के एंगल पर पुलिस की जांच टिकी हुई है। सुराग के तौर पर परिवार से आए दिन विवाद करने वाले पड़ोसी को उठाया तो उससे पूछताछ की। पुलिस आशंका जता रही है कि, यहीं हत्या हो सकता है। हालांकि, अब भी दो दिन में खुलासा करने की बात कहीं जा रही है।

शनिवार दोपहर मूंदी पुलिस ने एक संदेही को हिरासत में लेकर पुलिस उससे कड़ी पूछताछ कर रही है। संदेही की जानकारी मिलते ही ग्रामीण एएसपी, दो सीएसपी, एसडीओपी और टीआई भी मूंदी थाना पहुंच जिस शख्स को पुलिस ने हिरासत में लिया है, वह इलाके का ही रहने वाला है। बच्चे के माता-पिता को उसकी शिनाख्त करने के लिए थाने बुलाया गया। पुलिस सूत्रों का कहना है कि, संदेही के खिलाफ सबूत मिले हैं। अक्षांश के परिजन से आए-दिन उसका विवाद होता रहता था। अक्षांश के घर के बाहर भी कई बार उसे चक्कर काटते हुए देखा गया था। संभावना व्यक्त की जा रही है कि संदेही ने आपसी विवाद के चलते ही बच्चे की हत्या की है। संदेही इलाके में ही रहता है, वह मजदूर है।

बर्थडे पर 3 साल के मासूम की हत्या:खंडवा में घर के बाहर खेलते समय लापता हुआ, बोरी में मिला शव, बलि की आशंका

- टीआई बोले - जांच जारी, दो दिन में करेंगे खुलासा

टीआई मोहनसिंह सिंगोरे के मुताबिक, अंबेडकर नगर में 20 अक्टूबर की रात साढ़े तीन वर्षीय अक्षांश कोठारे की हत्या कर शव को बोरे में भरकर सूने मकान में ठिकाने लगाया था। शनिवार दोपहर पुलिस टीम ने इलाके के ही एक मजदूर को हिरासत में लिया है। संदेही से सख्ती से पूछताछ की जा रही है। साढ़े छह बजे अक्षांश के पिता श्याम और मां आशा को भी संदेही की शिनाख्ती के लिए बुलाया गया था। हालांकि पूरी जांच होने के बाद दो दिन में पुलिस हत्याकांड का खुलासा करेगी।

- इस तरह पुलिस कर रही हत्याकांड की जांच

अक्षांश हत्याकांड से जिलेभर में आक्रोश है। नरबली, अप्राकृतिक कृत्य, रंजिश और ईष्या जैसे चार बिंदुओं पर जांच शुरू की गई थी। जांच आगे बढ़ती गई और बिंदु कम होते गए। अब दो घरों पर आकर शक की सुई टिक गई। हत्यारा इन दाे घरों में से एक में है। शनिवार पुलिस एक संदेही को पकड़ लिया।