पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Girls Will Sing Songs By Making A Figure Out Of Cow Dung Outside The House, Manega Festival For 16 Days, On The New Moon Day The Frescoes Of Sanjha Take Full Shape.

संजा पर्व आज से:घरों के बाहर गोबर से आकृति बनाकर गीत गाएंगी कन्याएं, 16 दिन तक मनेगा उत्सव, अमावस्या के दिन संझा के भित्तिचित्र पूर्ण आकार ले लेते हैं

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस तरह गोबर से कन्याएं आकृतियां बनाती हैं। - Money Bhaskar
इस तरह गोबर से कन्याएं आकृतियां बनाती हैं।

श्राद्ध पक्ष के साथ ही जिले में आज मंगलवार से संजा फूली का त्योहार कन्याओं द्वारा मनाया जाएगा। 16 दिन तक घरों के बाहर दीवार पर पर गाय के गोबर से संजा देवी और चांद-सूरज सहित विभिन्न आकृतियां बनाई जाएंगी। इनका फूलों से शृंगार किया जाएगा। शाम होते ही संझा गीत गाए जाएंगे। हालांकि निमाड़ी संस्कृति का यह पर्व अब सीमित लोग ही शहर की कुछ बस्तियों और मोहल्लों में मनाते हैं।

लोक कलाकार साधना हेमंत उपाध्याय के अनुसार कुंआर के महीने में बादल छंटने लगते हैं। संध्या रंगीन दिखाई देती है। खेत और खलिहानों तक बागुड़ों में फूल खिल आते हैं। इन्हीं फूलों की तरह कन्याओं द्वारा सांजाफूली का त्योहार मनाया जाता है। जैसे-जैसे तिथियां बढ़ती जाती हैं, आकृतियों की संख्या भी बढ़ती जाती है। अमावस्या के दिन संझा के भित्तिचित्र पूर्ण आकार ले लेते हैं।

छोटी सी गाड़ी रुळकती जाए...

संजा पर्व के दौरान प्रतिदिन कन्याएं घरों के बाहर संजा की आकृति बनाने के बाद निमाड़ी बोली में गीत गाएंगी। इस दौरान प्रमुख रूप से “छोटी सी गाड़ी रुळकती जाए.. ओका म बठी संजा बेन, म्हारा अंगना म मईन्दी को झाड़..एक-एक पत्ता चुनती जाए, संजा त मांग हरो-हरो गोबर, का सी लाऊ बन्नी हरो-हरो गोबर” जैसे गीत गाए जाएंगी।

इस तरह बनाई जाती है संजा की आकृति

संजा देवी की आकृति में एक गोलाकार वृत बनाया जाता है। इस वृत को थोड़ा नीचे बढ़ा दिया जाता है। उसके ऊपर भी आधा वृत बनाकर इसे मानव आकृति बनाई जाती है। इन आकृतियों को संध्या के समय गेंदा, गुलपती, गुलबॉस, चंपा-चमेली और कनेर आदि फूलों की रंग-बिरंगी पंखुड़ियों से सजाया-संवारा जाता है।

खबरें और भी हैं...