पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • After Shivraj, Kamal Nath Came To Express Grief Due To Elections, Police Failed In Tracing The Killers; The Family Expressed Hope From The Tantrik

अक्षांश हत्याकांड पर ‘राजनीति’:चुनाव के कारण शिवराज के बाद कमलनाथ जताने आए शोक, हत्यारों की ट्रेसिंग में पुलिस नाकाम; परिवार ने तांत्रिक से जताई उम्मीद

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
3 साल का अक्षांश, हत्याकांड का छठवें दिन भी हत्यारों का पता नहीं चल सका। - Money Bhaskar
3 साल का अक्षांश, हत्याकांड का छठवें दिन भी हत्यारों का पता नहीं चल सका।

3 साल के अक्षांश की हत्या के छठवें दिन भी पुलिस के हाथ खाली है, हत्यारों पुलिस गिरफ्त से दूर है। एक तरफ परिवार न्याय की गुजारिश कर रहा है तो जिम्मेदार राजनीति पर उतर आए है। उपचुनाव के मद्देनजर अक्षांश हत्याकांड राजनीति बन गया है। सोमवार रात मुख्यमंत्री शिवराज और मंगलवार सुबह पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने परिवार से मिलकर शोक जताया।

इधर, अक्षांश के परिजन द्वारा लगाई गई पुलिस की उम्मीद भी अब टूटती सी नजर आ रही है। पिता श्याम और मां से घंटों पूछताछ होने के बाद परिजन को लग रहा है कि अक्षांश का कातिल पुलिस गिरफ्त से कोसों दूर है। ऐसे में हत्यारे का पता लगाने के लिए श्याम की बुआ, आशा बाई व उनका परिवार छैगांव माखन स्थित एक बाबा के पास पहुंचे। इसकी सूचना जब पुलिस काे पता चली तो उन्होंने आशा बाई को पूछताछ के लिए थाने बुलाया। पुलिस ने उनसे सवाल किए कि बाबा ने क्या कहा। इस पर आशा बाई ने बताया कि बाबा का कहना है कि हत्यारा पूर्व दिशा में रहता है और वह क्षेत्र का ही है। पूछताछ के बाद आशा बाई से बाबा और उनके ओझाओं की जानकारी लेकर पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

बर्थडे पर 3 साल के मासूम की हत्या:खंडवा में घर के बाहर खेलते समय लापता हुआ, बोरी में मिला शव, बलि की आशंका

मंगलवार सुबह अक्षांश के परिजन से मिलने आए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ।
मंगलवार सुबह अक्षांश के परिजन से मिलने आए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ।

नरबलि से लेकर रंजिश की आशंका जता चुकी पुलिस

मूंदी के अंबेडकरनगर वार्ड में रहने वाले साढ़े तीन साल के अक्षांश की 20 अक्टूबर को गला घोंटकर हत्या कर दी थी। पुलिस नरबलि से लेकर तो रंजिश समेत अन्य बिंदुओं पर पड़ताल कर चुकी है, लेकिन अभी तक हत्यारे का सुराग नहीं लगा है। हालांकि, पुलिस क्षेत्र में ही रहने वाले एक संदेही व उसके परिजन से लगातार पूछताछ कर रही है। हत्या में वह लिप्त है या नहीं उसका सबूत पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

सोमवार रात को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने परिजन से मिलकर शोक व्यक्त किया।
सोमवार रात को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने परिजन से मिलकर शोक व्यक्त किया।
खबरें और भी हैं...