पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुर्खियों के बाद नींद से जागा प्रशासन:बगैर सैंपल लिए पॉजिटिव बताने के मामले में अब कर रहे दावा, अयूब खान का लिया गया था RT-PCR सैंपल

खरगोन5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खरगोन शहर के औरंगपुरा में पुलिस की चालानी कार्रवाई के दौरान श्री कृष्ण टॉकीज चौराहे पर चलानी कार्रवाई के दौरान 60 वर्षीय अधेड़ अय्यूब खान के बीना सैंपल लिए पॉजिटिव बताने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से दावा किया है कि 60 वर्षीय अधेड़ का 12 जनवरी को RTPCR सैंपल लिया गया था। इसके बाद वो पॉजिटिव आए।

औरंगपुरा निवासी 60 वर्षीय अधेड़ आयु ने मीडिया के सामने दावा किया था कि स्वास्थ्य विभाग ने मेरा सैंपल लिया ही नहीं और मुझे एक दिन बाद पॉजिटिव बता दिया था। मीडिया में मामला सुर्खियां बनने के चलते कलेक्टर अनुग्रहा पी ने संज्ञान लेते हुए सीएमएचओ को निर्देशित किया है।

डॉ. आरआर कोसले ने बताया कि 12 जनवरी को शहर में बिना मास्क के घूमने वाले व्यक्तियों के चालान बनाये गए थे। चलानी कार्रवाई के दौरान ही सैंपल ही सैंपल लिया गया था। श्रीकृष्ण टॉकीज में बनाये गए सैंपल कलेक्शन सेंटर के डॉ. आलोक गुप्ता के दल ने सैंपल लिया था। डॉ. आलोक गुप्ता ने बताया कि 12 जनवरी को चलानी कार्रवाई के दौरान एमजी रोड पर तहसील कार्यालय के सामने भी सैंपल लिए गए थे।

सैंपल लेने वाली टीम में शामिल एमपीडब्ल्यू जितेंद्र साल्वे ने बताया कि अय्यूब खान का RTPCR सैंपल लिया गया था। अयुब्ब खान किसी छोटे दोपहिया वाहन से बिना मास्क के आते समय पकड़े गए थे। चालान बनाते समय इन्होंने विवाद भी कया था। सामान्य तौर पर सभी सैंपल लेने वाले व्यक्तियों से नाम और पता और वैक्सीन लेने की जानकारी मांगी जाती है। अय्यूब खान, पिता बशीर खान, उम्र 60 वर्ष का मोबाइल नम्बर 7898020149, पता औरंगपुरा जुलवानिया रोड खरगोन तथा दोनो वैक्सीन लगने की एंट्री भी दर्ज कराई है।

सैंपल कलेक्शन के बाद इंदौर भेजे गए। इनकी पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर अब ये मना कर रहे हैं। सैंपल के मामले में तहसीलदार शर्मा ने बताया कि ऐसा संभव ही नही है जिसका सैंपल लिया जाता है। उसी की रिपोर्ट नेगेटिव या पॉजिटिव आती है। चालानी कार्रवाई के समय भी इन्होंने विवाद किया था। इनका सैंपल लिया गया था। उसी के बाद रिपोर्ट आई है।