पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %

6 माह बाद शुरू हुआ अंतरराज्यीय बसों का संचालन:महाराष्ट्र में 15 तक रोक, निजी ट्रेवल्स की बसें शहादा व नंदुरबार कर रही आना-जाना, मिलने लगी सुविधा

बड़वानी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महाराष्ट्र की तरफ से नगर में प्रवेश करती बस। - Money Bhaskar
महाराष्ट्र की तरफ से नगर में प्रवेश करती बस।
  • बस संचालक बोले- महाराष्ट्र के बस स्टैंड पर मप्र की बसों को नहीं करने दे रहे प्रवेश

कोरोना संक्रमण के चलते राज्य सरकार ने अंतरराज्यीय बस सेवा पर 31 अगस्त तक प्रतिबंध लगाया था। 6 महीने बाद महाराष्ट्र जाने वाली यात्री बसों का संचालन बुधवार से शुरू हो गया है। निजी ट्रेवल्स की बसें मप्र से महाराष्ट्र के शहादा व नंदुरबार तक आना-जाना कर रही है।

लॉकडाउन के पहले महाराष्ट्र व गुजरात जाने के लिए खेतिया अंतरराज्यीय रूट से निजी तथा राज्य परिवहन के प्रतिदिन 14 यात्री वाहन गुजरते थे। इनमें से 6 महाराष्ट्र राज्य परिवहन व 8 निजी ट्रेवल्स की बसें चलती थी।

महाराष्ट्र-गुजरात सीमा पर इन बसों से रोजाना दो हजार यात्री सफर करते थे। पिछले 6 महीने से बसों का संचालन थमा था। अब फिर से इनका संचालन शुरू होने से लोगों को आने-जाने में सुविधा होगी। फिलहाल महाराष्ट्र राज्य परिवहन की बसें मप्र में नहीं आ रही हैं। इससे महाराष्ट्र के लोगों को निजी बस या अन्य साधन से आना पड़ रहा है।

महाराष्ट्र के बस स्टैंड पर मांग रहे संचालन का आदेश

बड़वानी बस स्टैंड से चार बसों का संचालन महाराष्ट्र के लिए हो रहा है। बस संचालक मोहनलाल सांवरिया ने बताया बड़वानी-धुलिया, बड़वानी-डोंडाईच्या व बड़वानी-नंदुरबार रूट पर बसें चल रही है। 6 महीने पहले भी इसी रूट पर चार बसें संचालित होती थी। सांवरिया ने बताया महाराष्ट्र में धुलिया व शिरपुर बस स्टैंड पर बसों को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है।

बस डिपो के कर्मचारी मप्र परिवहन आयुक्त के बस संचालन का आदेश मांग रहे हैं। वहीं इस संबंध में प्रदेश के अफसर कोई आदेश नहीं दे रहे हैं। इसमें बस संचालकों को परेशान होना पड़ रहा है। इससे यात्रियों को प्रदेश में जाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। कई लोग इलाज कराने धुलिया जाते हैं। बस स्टैंड पर प्रदेश की बसें नहीं मिलने से लोगों को अतिरिक्त खर्चा कर बाहर जाना पड़ रहा है।

प्रदेश में नहीं हुआ प्रतिबंध के आदेश का पालन

कोराेना संक्रमण के चलते परिवहन आयुक्त ने प्रदेश से महाराष्ट्र जाने के लिए बसाें के संचालन पर प्रतिबंध लगाया था। इसके बावजूद आगरा-मुंबई नेशनल हाईवे से रोजाना 50 से अधिक बसों का संचालन हाेता रहा। प्रदेश की सीमा बिजासन घाट से रोजाना बसें निकलती रही। बालसमुद बेरियर पर जांच से बचने के लिए बसें ग्रामीण रास्ते से निकलती रही। इसको लेकर जिले के बस एसोसिएशन ने प्रशासन को आवेदन देकर बसों का संचालन रोकने की मांग की थी लेकिन परिवहन विभाग ने बसों को रोकने की कार्रवाई नहीं की।

अभी नहीं मिले नए निर्देश

परिवहन आयुक्त के निर्देश पर 31 अगस्त तक अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर प्रतिबंध था। इसके बाद हमें प्रतिबंध लगाने के लिए कोई आदेश नहीं मिला है। बसें आना-जाना कर सकती हैं।-नंदलाल गामड़, जिला परिवहन अधिकारी, बड़वानी

महाराष्ट्र में 15 तक प्रतिबंध

महाराष्ट्र के परिवहन आयुक्त ने 15 सितंबर तक अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर प्रतिबंध लगाया है। इसके चलते महाराष्ट्र से खेतिया, पानसेमल, शिरपुर व मप्र जाने वाली बसों का संचालन नहीं किया जा रहा है।-योगेश लिंगायत, डिपो मैनेजर, शहादा, महाराष्ट्र

खबरें और भी हैं...