पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Barwani
  • One Hour Of Heavy Rain, Drain Water Reached People's Homes, 207.9 Mm Of Rain Is Still Needed For Average Rainfall, 10 Days Left For Monsoon

मौसम में ठंडक:एक घंटा तेज बारिश, लोगों के घर तक पहुंचा नाले का पानी, औसत बारिश के लिए अब भी 207.9 मिमी बारिश की जरूरत, मानसून को 10 दिन बाकी

बड़वानीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेज बारिश से पालाबाजार क्षेत्र में नाले का पानी लोगों के घरों के ओटले तक पानी पहुंच गया। - Money Bhaskar
तेज बारिश से पालाबाजार क्षेत्र में नाले का पानी लोगों के घरों के ओटले तक पानी पहुंच गया।

शहर में सुबह से छाए बादल दोपहर 12.30 बजे से बरसना शुरू हुए। एक घंटे तेज बारिश से सड़कों पर पानी बह निकला। पालाबाजार क्षेत्र में नाले में बाढ आ गई। सड़कों पर नाले का पानी बहने के साथ लोगों के घर के ओटले तक नाले का पानी जा पहुंचा। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बारिश से लोगों को उमस से राहत मिली है। दिन भर में करीब 1 इंच बारिश होने का अनुमान है। तेज बारिश ने शहर की सफाई व्यवस्था की पोल खोल दी। नाले पर लगी जालियों पर कचरा, पॉलीथिन फंस गई।

वहीं सड़कों पर पानी बहने से लोगों को परेशान होना पड़ा। बारिश का पानी लोगों के घर के ओटले तक जा पहुंचा, जो कुछ देर में कम हो गया है। रहवासियों ने बताया ज्यादा देर तेज बारिश होने पर नाले का पानी घर में घुस सकता है। जिम्मेदार अफसरों की अनदेखी से परेशान होना पड़ता है। दोपहर में बारिश के बाद दिन भर रुक-रुक कर बूंदाबांदी होती रही।

औसत से कम हुई बारिश : मानसून सीजन को 10 दिन बचे। अभी तक जिले में औसत से 207.9 मिमी बारिश कम हुई है। बारिश का दौर इसी तरह चलता रहा, तो औसत बारिश का आकड़ा पूरा होने की उम्मीद है। जिले की औसत बारिश 746.3 मिमी है। पिछले साल अभी तक की स्थिति में जिले में 765.1 मिमी बारिश हुई थी।

नर्मदा का जलस्तर 121.20 मीटर पर पहुंचा

ऊपरी हिस्सों में बारिश होने से नर्मदा नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। सोमवार शाम 6 बजे जलस्तर 121.20 मीटर पर था। अभी नर्मदा खतरे के निशान से 2 मीटर नीचे बह रही है। एनवीडीए के अफसरों ने बताया राजघाट में खतरे का निशान 123.280 मीटर पर है।

खबरें और भी हैं...