पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कालाबाजारी में हुई कार्रवाई:बिना दस्तावेज इंदौर से 600 बोरी खाद मंगाने के मामले में एक व्यापारी पर केस

बड़वानी10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थाना परिसर में खड़ा खाद से भरा ट्रक। - Money Bhaskar
थाना परिसर में खड़ा खाद से भरा ट्रक।
  • किसानों ने पकड़ा था ट्रक, बिना दस्तावेज अनाज परिवहन के बाद अब खाद की कालाबाजारी

हथियारों के अवैध निर्माण और तस्करी के बाद अब पलसूद बिना दस्तावेज के अनाज व खाद की खरीदी-बिक्री का केंद्र बनता जा रहा है। पूर्व में साेसायटी का 302 क्विंटल गेहूूं जब्त कर संबंधित व्यापारी व कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया था। अब खाद के अवैध परिवहन का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि यह खाद पलसूद के व्यापारी ने इंदौर से बुलाई थी लेकिन इसके लिए व्यापारी के पास अनुमति पत्र (ओ फार्म) नहीं है। इसके चलते अफसरों की शिकायत पर राजपुर पुलिस ने व्यापारी के खिलाफ केस दर्ज कर ट्रक जब्त किया है। ट्रक में 600 बोरी यानी 26.60 टन यूरिया खाद भरा हुआ है। खाद की जांच के लिए अफसरों ने सैंपल भोपाल लैब भेजा है। 15 से 20 दिन में रिपोर्ट आएगी।

दो दिन पहले किसान संघ की शिकायत पर कृषि विभाग के अफसरों ने ग्राम नरावला में खाद से भरा ट्रक जब्त किया था। यह खाद पलसूद के व्यापारी द्वारा इंदौर से बुलाई थी। लेकिन जांच में संबंधित व्यापारी खाद की खरीदी-बिक्री के लिए स्त्रोत या अनुमति प्रमाण पत्र (ओ फार्म) पेश नहीं कर पाए। कृषि विभाग के उर्वरक निरीक्षक रामलाल सांवले ने पुलिस को बताया ग्राम नरावला के पास इंद्रपुर रोेड पर ट्रक एमएच 18 बीजी 5286 को पकड़ा गया। इसमें 600 बैग (26.60) यूरिया खाद का अवैध परिवहन किया जा रहा था। ट्रक चालक के पास खाद परिवहन के दस्तावेज नहीं थे।

पूछताछ में चालक ने बताया पलसूद के व्यापारी सुभाष जायसवाल ने खाद बुलाई है। जांच में व्यापारी ने खाद प्राप्ति के लिए स्त्रोत प्रमाण पत्र (ओ फार्म) नहीं पेश किया। बिना अनुमति के खाद बुलवाया गया, जो उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985 के सेक्शन 8 के तहत अपराध की श्रेणी में आता है। सांवले की शिकायत पर पुलिस ने व्यापारी जायसवाल के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3/7 व उर्वरक (नियंत्रण) आदेश के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस अब व्यापारी की गिरफ्तारी के लिए उसकी तलाश कर रही है।

खाद की जुटाई जानकारी, बिक्री के लिए कलेक्टर ने अफसरों को दी जिम्मेदारी, कालाबाजारी पर होगी सख्त कार्रवाई

पशुओं के अवैध परिवहन मामले में भी हुई कार्रवाई
पलसूद में पहले पशु परिवहन के भी मामले सामने आए हैं। पुलिस ने पशु परिवहन के मामले में वाहन पकड़कर कर कार्रवाई की थी। साथ ही पशुओं को गाेशाला भेजा गया था। ऊंडी खोदरी में हथियार बनाने व बेचने पर कार्रवाई हुई थी। इसके अलावा बालसमुद बैरियर पर टैक्स से बचने के लिए चालक बस व भारी लोडिंग वाहन इस मार्ग से आवाजाही करते हैं। समय-समय पर अफसरों द्वारा कार्रवाई की जाती है। बावजूद अवैध गतिविधियों पर रोक नहीं लग पा रही है।

गेहूं की कालाबाजारी में 6 आरोपी गिरफ्तार
पलसूद पुलिस ने 19 जून को 302 क्विंटल गेहूं से भरा ट्रक टोल प्लाजा के पास से पकड़ा था। इसमें कड़ोदकला जिला धार आदिम जाति सहकारी समिति से निकला गेहूं मनावर वेयर हाउस भेजने की जगह पलसूद के व्यापारी पीयूष अग्रवाल को भेजा गया था। व्यापारी अनाज को नीमच बेचने के लिए भेज रहा था।

पुलिस ने ट्रक चालक सहित व्यापारी अग्रवाल को पकड़ने के बाद मनावर के वेयर हाउस प्रभारी मुकेश मित्तल, एमपी स्टेट सिविल सप्लाय कार्पोरेशन मनावर के केंद्र प्रभारी प्यारेलाल सोनवणे सहित वेयर हाउस के सहायक प्रभारी रवि पंवार व ट्रांसपोर्टर पवन पाटीदार को गिरफ्तार किया था।

पता करेंगे कहां से बुलाई खाद

  • उर्वरक निरीक्षक की शिकायत पर व्यापारी के खिलाफ केस दर्ज किया है। मामले में आरोपी की गिरफ्तारी के बाद पता चलेगा कि खाद कहां से बुलाया था। खाद की कालाबाजारी में कौन-कौन शामिल है, इसका पता लगाएंगे। -रमेश चौहान, एएसआई थाना राजपुर
खबरें और भी हैं...