पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जबलपुर में स्मॉल बैंक में चोरी:बैंक की शटर का ताला तोड़कर चोर 9 लाख कैश ले उड़े बदमाश, सीसीटीवी में वारदात कैद

जबलपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर में बैंक से नौ लाख रुपए की चोरी। - Money Bhaskar
जबलपुर में बैंक से नौ लाख रुपए की चोरी।

जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर खितौला में चोरों ने स्मॉल बैंक को निशाना बनाया। आरोपी बैंक की शटर का ताला तोड़कर अंदर घुसे और लॉकर तोड़कर 9 लाख रुपए नकदी ले उड़े। बैंक में इस वारदात से हड़कंप है। इससे पहले चोरों ने कस्बे में एक मोबाइल दुकान से 44 लाख रुपए के मोबाइल पार कर लिए थे।

खितौला पुलिस के मुताबिक पारस रेसीडेंस के बाजू में स्थित फिनमेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक की शटर का ताला तोड़कर लॉकर में रखे 9 लाख रुपए समेट ले गए। बैंक की शटर के ताले टूटे देख बैंक कर्मियों ने अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो वारदात रिकॉर्ड हो गई। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

बैंक में रखी अलमारी से चुरा ले गए नौ लाख रुपए।
बैंक में रखी अलमारी से चुरा ले गए नौ लाख रुपए।

चोरी का मामला दर्ज

फिनमेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक के ब्रांच मैनेजर शक्ति गर्ग ने बताया कि वार्ड नंबर 12 पारस कॉलोनी के बाजू में उनका बैंक है। रात करीब 9:00 बजे के लगभग वह बैंक को बंद कर चले गए। सुबह चोरी की जानकारी हुई। खितौला पुलिस ने शक्ति गर्ग की शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज कर लिया है। बैंक में चोरी की खबर मिलते ही पुलिस सकते में आ गई। मौके पर फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और डॉग स्क्वॉड की टीम पहुंची।

सीसीटीवी फुटेज में कैद आरोपी।
सीसीटीवी फुटेज में कैद आरोपी।

फिंगर प्रिंट के नमूने लिए गए

थाना प्रभारी जे. मसराम के मुताबिक हाथों के निशान के नमूने लिए गए हैं। पेशेवर चोरों के होने से फिंगर प्रिंट से मैच हो सकता है। डॉग स्क्वॉड की टीम आसपास के क्षेत्र में घुमाया गया, लेकिन हर बार वह लौट कर बैंक मही आकर रुक जा रहा था। इस बैंक चोरी से खितौला टीआई की रात्रि गश्त पर सवाल उठने लगे हैं।

सीसीटीवी में चोर की गतिविधियां कैद।
सीसीटीवी में चोर की गतिविधियां कैद।

पुलिस को भनक तक नहीं लगी

मुख्य रोड स्थित बैंक में चोर आसानी से शटर की ताला तोड़कर चोरी की वारदात को अंजाम देने में सफल रहे, लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी। इससे पहले कस्बे में चोर एक मोबाइल शो-रूम से 44 लाख रुपए का मोबाइल पार कर लिए। इस गैंग के एक सदस्य के अलावा किसी को पुलिस नहीं दबोच पाई।