पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • The Former State Vice President Of Backward Classes Has Become A Private Limited Company On The Party, No Respect For The Leaders And Workers.

अपनी ही पार्टी के खिलाफ दिया धरना:अमित शाह के कार्यक्रम में नहीं बुलाने पर पिछड़ा वर्ग के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा- BJP अब प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बनी, यहां इज्जत नहीं

जबलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे में तवज्जो नहीं मिलने को लेकर नगर भाजपा संगठन में गहरा असंतोष देखने को मिला रहा है। भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व उपाध्यक्ष सुरेंद्र राठौर ने रविवार को रानीताल स्थित संभागीय भाजपा कार्यालय के सामने धरना दिया। आरोप लगाया कि पार्टी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन गई है। नेता-कार्यकर्ताओं काे इज्जत नहीं मिल रही है। मामले की जानकारी के बाद प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव ने फोन पर बात कर मामला संभाला।

सुरेंद्र राठौर ने आरोप लगाया कि गृहमंत्री के सभी कार्यक्रमों में शहर और अन्य जिलों के सीनियर नेताओं को सम्मान नहीं दिया गया। भाजपा में अब सीनियर नेताओं की उपेक्षा होने लगी है। गृहमंत्री के कार्यक्रम में पूर्व महापौर प्रभात साहू, विधायक बैसाखू लाल साहू, वनमंत्री कुंवर विजय शाह और केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते का अपमान किया गया है। भाजपा बूथ कार्यक्रम में पूर्व महापौर प्रभात साहू और विधायक बैसाखू लाल का नाम नहीं था। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते को मंच के बजाए सामने की कुर्सी पर बैठाया गया।

धरने पर बैठे भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व उपाध्यक्ष सुरेंद्र राठौर।
धरने पर बैठे भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व उपाध्यक्ष सुरेंद्र राठौर।

40 साल पुराना कार्यकर्ता हूं
राठौर ने कहा कि 40 साल से पार्टी की सेवा कर रहा रहा हूं। दो बार युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष, महामंत्री, युवा मोर्चा के प्रदेश कार्य समिति के सदस्य, जिला महामंत्री सहित जबलपुर विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष पद तक की जिम्मेदारी संभाली है। बावजूद मेरी उपेक्षा की गई। गृहमंत्री शाह के कार्यक्रम में VIP कुर्सी तक नसीब नहीं हुई।

प्रदेश प्रभारी के आश्वासन पर समाप्त किया धरना
उधर, राठौर के धरने की जानकारी से पार्टी के नेता असमंजस में पड़ गए। मामला प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव तक पहुंचा। उन्होंने भाजपा नेता सुरेंद्र राठौर से बात की और आश्वासन दिया कि उनकी पीड़ा पर सुनवाई होगी। वो पार्टी के सम्मानित और अनुशासित नेता हैं। अपनी बात पार्टी फोरम पर रखें। इसके बाद उनका धरना समाप्त हुआ।

खबरें और भी हैं...