पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Rail Coach Restaurant At 7 Stations Of WCR Five In Jabalpur Division, Then Two Stations Were Selected In Bhopal Division, Old Coach Was Converted Into Restaurant

पमरे के 7 स्टेशनों पर रेल कोच रेस्टोरेंट:जबलपुर मंडल में पांच, तो भोपाल मंडल में दो स्टेशनों को चुना गया, पुराने कोच को रेस्टोरेंट में बदला गया

जबलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर सहित 7 शहरों में मिलेगा रेल कोच रेस्टोरेंट की सुविधा। - Money Bhaskar
जबलपुर सहित 7 शहरों में मिलेगा रेल कोच रेस्टोरेंट की सुविधा।

पश्चिम मध्य रेलवे (पमरे) ने अतिरिक्त राजस्व और लोगों को कोच रेस्टोरेंट में लजीज व्यंजन का लुत्फ उठाने का मौका देने जा रही है। इसके लिए जबलपुर रेलव मंडल के जबलपुर, मदनमहल सहित पांच स्टेशनों और भोपाल रेल मंडल के भोपाल व इटारसी स्टेशनों पर रेल कोच रेस्टोरेंट खोलने जा रही है। रेलवे के पुराने कोच को आकर्षक रेस्टोरेंट में तब्दील किया जाएगा।

पमरे जीएम शैलेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक गैर किराया राजस्व के तहत पमरे को सात रेल कोच रेस्टारेंट से 5 करोड़ रुपए की आमदनी होगी। वाणिज्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों ने रेल कोच रेस्टोरेंट की थीम को आगे बढ़ाया है। पमरे ने जबलपुर और भोपाल रेल मंडल के सात स्टेशनों पर रेल कोच रेस्टोरेंट स्थापित करने के लिए अनुबंधों को अंतिम रूप दिया गया है।

रेल कोच रेस्टोरेंट में लजीज व्यवंजन का उठा पाएंगे स्वाद।
रेल कोच रेस्टोरेंट में लजीज व्यवंजन का उठा पाएंगे स्वाद।

रेल कोच रेस्टोरेंट नया अनुभव देंगे

यह रेल कोच रेस्टोरेंट लोगों को नया अनुभव देंगे। शहर को एक नयी पहचान भी मिलेगी। लाइसेंसधारी द्वारा ही पुराने कोच को आकर्षक बनाकर रेल कोच रेस्टोरेंट में तब्दील किया जाएगा। यह कोच रेलवे की सम्पति रहेगी। पांच साल के अनुबंध पर यह दिया जाएगा। रेल कोच रेस्टोरेंट के लिए 1200 वर्गफीट क्षेत्र उपलब्ध कराया गया है। इससे रेलवे को लगभग पांच करोड़ रुपए की आमदनी होगी।

मदनमहल स्टेशन के बाहर रेल कोच रखवा दिया गया है। जल्द ही इसे रेस्टोरेंट में तब्दील किया जाएगा।
मदनमहल स्टेशन के बाहर रेल कोच रखवा दिया गया है। जल्द ही इसे रेस्टोरेंट में तब्दील किया जाएगा।

जबलपुर रेल मंडल में पांच स्टेशनों का चयन

गैर किराया राजस्व योजना के तहत जबलपुर रेल मंडल ने जबलपुर, मदनमहल, कटनी, मुड़वारा, सतना और रीवा स्टेशनों के सर्कुलेटिंग एरिया में रेल कोच रेस्टोरेंट के लिए अनुबंध किया है। 05 वर्ष की अवधि के लिए रेलवे को कुल 3.33 करोड़ रुपए मिलेंगे।

मुख्य स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 6 के बाहर मालगोदाम रोड के किनारे रेलवे की पुरानी कॉलोनी वाली जगह पर इसे स्थापित किया गया है। इसी तरह मदनमहल स्टेशन के बाहर भी रेल कोच रखवाया गया है। जबकि भोपाल मंडल में दोनों रेल कोच रेस्टोरेंट से रेलवे को 1.47 करोड़ रुपए की आमदनी होगी।

लाखों रुपए है किराया

  • जबलपुर स्टेशन के लिए 13 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • मदनमहल स्टेशन के लिए 08.20 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • कटनी मुड़वारा स्टेशन के लिए 18.20 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • सतना स्टेशन के लिए 16.80 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • रीवा स्टेशन के लिए 06.57 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • भोपाल स्टेशन के लिए 11.74 लाख रुपए प्रतिवर्ष।
  • इटारसी स्टेशन के लिए 17.69 लाख रुपए प्रतिवर्ष।

24 घंटे मिलेगी भोजन की व्यवस्था

इस रेल कोच रेस्टॉरेंट में 24 घंटे भोजन की व्यवस्था उपलब्ध रहेगी। रेल उपयोगकर्ताओं के साथ-साथ आम शहरवासी भी इस रेल कोच रेस्टॉरेट में लजीज व्यंजन का लुत्फ उठा पाएंगे। रेल कोच रेस्टॉरेंट पयर्टन को भी आकर्षित करने में कारगर होगी।

खबरें और भी हैं...