पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %

बिजली गिरने से बाप-बेटी समेत 3 की मौत:जबलपुर में बारिश से बचने के लिए खेत पर बने कमरे में छिपे 9 लोगों पर वज्रपात; 3 जिंदा जल गए, 5 मौत के मुंह से बचे

जबलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जबलपुर के चरगवां में सोमवार शाम बिजली गिरने से पिता-पुत्री सहित तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 5 लोग बेहोश गए। उनकी हालत खतरे से बाहर है और सभी ठीक है। सभी लोग खेत में काम कर रहे थे, तभी बारिश शुरू हो गई और आसमान में कड़की बिजली उनके ऊपर गिर गई।

चरगवां थाना प्रभारी विनोद पाठक के मुताबिक, जमुनिया गांव में ये हृदयविदारक हादसा हुआ है। गांव के रामजी यादव (43), बेटी माया (19) और भतीजे साहिल यादव (15) सहित अन्य के साथ खेत में काम कर रहे थे। शाम 5 से 6 बजे के बीच में अचानक बारिश शुरू हो गई। उसी दौरान वे बचने के लिए खेत पर बने एक कमरे सभी छुप गए। तीनों मरने वाले खिड़की के पास खड़े थे। तभी आकाशीय बिजली गिरी और तीनों झुलस गए। कमरे में मौजूद अन्य बेहोश हो गए थे।

अस्पताल पहुंचने से पहले तीनों ने तोड़ा दम
तीनों को बेहोशी की हालत में परिजन अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। आकाशीय बिजली की चपेट में गांव के पांच-छह अन्य लोगों के भी आने की बात कही जा रही है। हालांकि सभी खतरे से बाहर हैं। हादसे की खबर मिलते ही बरगी सीएसपी ट्रेनी आईपीएस प्रियंका शुक्ला भी मौके पर पहुंची हैं।

साहिल यादव (15), माया यादव (19) और रामजी यादव (43) की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई।
साहिल यादव (15), माया यादव (19) और रामजी यादव (43) की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई।

आकाशीय बिजली की चपेट में आकर गांव के बाबूलाल झारिया, उनकी पत्नी चंदाबाई झारिया, मिठाईलाल झारिया, रम्मू यादव, उनकी पत्नी संध्या यादव बेहोश हो गए थे। अब सभी ठीक हैं। यादव परिवार अपने खेत में उड़द तोड़ने गया था। जबकि झारिया परिवार दूसरे के खेत में मजदूरी पर उड़द तोड़ने गए थे। रामजी यादव के खेत में एक कमरा बना हुआ है। बारिश शुरू हुई, तो सभी उसी कमरे में चले गए थे।

खबरें और भी हैं...