पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सेना के जवान ने पत्नी संग किया सुसाइड:जबलपुर आर्मी के राइफलमैन और उसकी पत्नी की फंदे से लटकी मिली लाश, सालभर पहले हुई थी शादी

जबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आर्मी के राइफल मैन और उसकी पत्नी ने की सुसाइड।

जबलपुर में सेना के जवान ने पत्नी संग सुसाइड कर लिया। दोनों का शव आर्मी क्वार्टर में फंदे से लटका मिला। आर्मी के राइफलमैन शव जहां बरामदे में फंदे से लटक रहा था। वहीं, पत्नी की लाश कमरे में लटकी मिली। सुसाइड से पहले दंपती के बीच कुछ विवाद हुआ था। उनकी शादी एक साल पहले ही हुई थी। खबर मिलते ही सेना के अधिकारी पहुंच गए। इसके बाद कैंट पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस के मुताबिक मूलत: हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा के रहने वाले पंकज सिंह (28) रायफल मैन के पद पर जेआरके में पदस्थ थे। साथ में उनकी पत्नी सुनीता सिंह (25) भी रह रही थी। शादी एक साल पहले ही हुई थी। पड़ोसियों के मुताबिक रात करीब 10 बजे दोनों खाना खाकर सो गए थे। इसके बाद उनके बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ। संभवत उसके बाद पंकज सिंह रूम से बाहर बरामदे में फंदे पर झूल गया। वहीं, सुनीता ने भी बेडरुम में पंखे के सहारे चुनरी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली।

स्टाफ के लोगों ने दंपती का शव देख दी सूचना

रविवार सुबह स्टाफ के लोगों ने दोनों के शव देख अफसरों को अवगत कराया। सेना के अधिकारियों ने कार्रवाई पूरी करने के बाद दोपहर में कैंट पुलिस को सूचना दी। जेके राइफल्स के सूबेदार ने कैंट पुलिस को मस्जिद लाइन के फैमिली क्वार्टर नंबर 36/ 12 निवासी पंकज और उनकी पत्नी द्वारा फांसी लगाए जाने की सूचना दी। पुलिस ने एफएसएल टीम की मौजूदगी में दोनों के शवों को फंदे से उतारा और पीएम के लिए भिजवाया।

मोबाइल को पुलिस ने किया जब्त

कैंट टीआई विजय तिवारी के मुताबिक प्रारंभिक जांच में सामने आया कि दोनों की एक साल पहले ही शादी हुई थी, पर उनके संबंधों में मधुरता नहीं रह गई थी। अक्सर दोनों आपस में झगड़ते रहते थे। कमरे से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने उनके मोबाइल जब्त कर लिए हैं। मोबाइल से सुसाइड की गुत्थी सुलझ सकती है।

हिमाचल में होगा अंतिम संस्कार

पुलिस के मुताबिक पीएम के बाद दंपती के शवों को मरचुरी में रखवा दिया गया। पंकज के परिजन और सुनीता के मायके पक्ष के लोग हिमाचल प्रदेश से फ्लाइट से जबलपुर शाम को पहुंचे। परिजनों के केंट थाने में कथन के बाद सेना के वाहन से दोनों के शवों को हिमाचल प्रदेश रवाना किया जाएगा। सीएसपी केंट भावना मरावी के मुताबिक दंपती के पास से सुसाइड नोट नहीं मिला है। परिजनों के कथन और पीएम के बाद ही कुछ स्पष्ट हाेगा।