पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61716.05-0.08 %
  • NIFTY18418.75-0.32 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473880.43 %
  • SILVER(MCX 1 KG)637561.3 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 36 Thousand Rupees Were Collected From The Driver Living In Gwarighat By Becoming The Personnel Of Jabalpur Crime Branch, The Driver Had Started Living In Narsinghpur Village For A Month In Panic.

वसूली गैंग की एक और कहानी:क्राइम ब्रांच के कर्मी बनकर ग्वारीघाट में ड्राइवर से 36 हजार रुपए वसूले थे, दहशत में एक महीने नरसिंहपुर गांव में रहने लगा था ड्राइवर

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जबलपुर पुलिस की गिरफ्त में आए फर्जी पत्रकारों की वसूली गैंग के कारनामें एक-एक कर सामने आने लगे हैं। इस गिरोह का शिकार बना नरसिंहपुर निवासी एक ड्राइवर भी सामने आया है। ड्राइवर ने आरोपियों के खिलाफ शुक्रवार 30 जुलाई को ग्वारीघाट थाने में क्राइम ब्रांच का कर्मी बनकर 36 हजार 500 रुपए वसूलने का प्रकरण दर्ज कराया है। पीड़ित इस कदर डर गया था कि वारदात के बाद वह नरसिंहपुर अपने पैतृक गांव चला गया था। गिरोह के पकड़े जाने की सूचना पर उसे हिम्मत मिली तो वह भी थाने पहुंचा और एफआईआर दर्ज कराई।

नरसिंहपुर निवासी आशु उर्फ आशीष (23) जबलपुर में रहकर ड्राइवरी की नौकरी करता है। वह शहर में भीमनगर ग्वारीघाट में किराए के मकान में रहता है। आशु ने शिकायत में बताया कि 4 जुलाई 2021 की शाम 4 से 5 बजे के बीच वह अपने भीमनगर स्थित किराए के घर में महिला मित्र के साथ था। तभी विवेक मिश्रा, जेपी सिंह, पंकज और तीन अन्य लोग उसके कमरे पर आए। आरोपियों ने जोर-जोर से दरवाजा खटखटाने लगे। उसने दरवाजा खोला तो सभी एकदम से घर के अंदर घुस गए। उसे गंदी-गंदी गालियां देते हुए पैसे की मांग करने लगे।

खुद को आरोपियों ने क्राइम ब्रांच का पुलिस कर्मी बताया

वे 6 लोग खुद को क्राइम ब्रांच पुलिस जबलपुर बता रहे थे। पैसे न होने पर जान से मारने की धमकी देने लगे। बोले कि इसका एनकाउंटर कर दिया जाए। इस पर वह काफी डर गया। आरोपियों ने उसे धमका कर उसके दो बैंक के एटीएम कार्ड ले गए। आरोपियों में दो पैसे निकालने पिन नंबर पूछकर निकले थे। दोनों आरोपियों ने एटीएम जाकर 24000 रुपए निकाल लिए। वहां से आकर फिर धमका कर उससे 1500 रुपए और ले लिए।

फोन-पे एकाउंट से भी 11 हजार रुपए निकलवा लिए

वह बहुत डर गया था। आरोपी और पैसे की मांग करने लगे। तब उसने बोला कि उसके फोन-पे एकाउंट में पैसे हैं, वह दे सकता हूं। इसके बाद सभी उसे लेकर छोटीलाइन फाटक पहुंचे। वहां एक मोबाइल की दुकान में जाकर उसके फोन-पे से 11000 रुपए रूपए मोबाइल दुकानदार के फोन-पे में ट्रांसफर कराया और उससे नकद पैसे लिए। इस तरह उसे डराकर आरोपियों ने कुल 36 हजार 500 रुपए ले लिए। छोटी लाइन फाटक से ही सभी चले गए।

दहशत में गांव चला गया था पीड़ित

वह बहुत डरा हुआ था। छोटी लाइन फाटक से वह भीमनगर कमरे पर गया। महिला मित्र को उसके घर रवाना कर अपने घर नरसिंहपुर चला गया था। वहां घरवालों को बताया। इसके बाद वह शिकायत दर्ज कराने शुक्रवार 30 जुलाई को ग्वारीघाट पहुंचा है। ग्वारीघाट पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर विवेक मिश्रा, जेपी सिंह, पंकज और तीन अन्य लोगों के खिलाफ घर में घुसकर धमकी देना, मारपीट बलवा, वसूली का प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है।

पुलिस, हिंदू संगठन और पत्रकारों की फर्जी गैंग:फिल्मी अंदाज में घर पर एक साथ बोलते थे धावा, आपत्तिजनक वीडियो बनाकर करते थे पैसों की डिमांड; 4 गिरफ्तार

खबरें और भी हैं...