पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58461.291.35 %
  • NIFTY17401.651.37 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47394-0.41 %
  • SILVER(MCX 1 KG)60655-1.89 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • The Daughter in law Along With Her Brother And His Servant Committed The Theft In Her Own House, Planned Theft Due To The Luster And Jealousy Of The Property.

घर की बहू ने करवाई 85 लाख की चोरी:इंदौर में भाई से कहा- जेठानी के पास ज्यादा माल है, ले जाओ

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में वैभव ( लाल शर्ट में) और अरबाज (सफेद टीशर्ट में)।

इंदौर के गुमाश्ता नगर इलाके में बर्तन व्यापारी के घर में हुई चोरी की मास्टरमाइंड उनकी छोटी बहू माधुरी अग्रवाल निकली। उसने भाई के साथ मिलकर करीब 85 लाख रुपए की चोरी करवाई थी। पुलिस ने मामले में माधुरी के भाई वैभव और उसके नौकर अरबाज को गिरफ्तार किया है। वहीं, माधुरी अभी फरार है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 1 किलो 600 ग्राम सोने के गहने, 40 ग्राम डायमंड, 600 ग्राम चांदी के गहने और 20 हजार रुपए नकदी जब्त किए हैं।

13 अक्टूबर को राहुल पुत्र कैलाश अग्रवाल के घर चोरी हुई थी। आरोपी लॉकर तोड़कर यहां से सोने-चांदी और डायमंड के जेवरात और नकदी रुपए ले गए थे। घटनास्थल पर चंदन नगर, अन्नपूर्णा, द्वारकापुरी के क्राइम स्क्वॉड को बुलवाया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। राहुल ने करीब 85 लाख से ज्यादा की चोरी की बात पुलिस को बताई थी।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा
एसपी महेशचंद जैन ने बताया कि पुलिस ने घर में और आस-पास लगे सीसीटीवी खंगाले। इसमें घटना वाले दिन घर में दो लोग जाते दिखे। करीब 20 मिनट बाद ये लोग घर से निकल कर कुछ दूर गए और ऑटो में बैठकर चले गए। फुटेज में दोनों की पहचान नहीं हो पाई थी। जांच में दोनों के हुलिए से मिलते व्यक्ति दशहरा मैदान तरफ ऑटो से उतरते दिखे। फिर एक्टिवा से जाते दिखे। जांच में पता चला कि इनमें से एक हुलिए से मिलता व्यक्ति घर में आता-जाता था। उसकी पहचान वैभव के रूप में हुई। वैभव को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की, तो उसने गुनाह कबूल कर लिया। वह राहुल की पत्नी माधुरी का भाई है। पुलिस ने एक्टिवा भी जब्त की है।

पुलिस ने आरोपियों के पास से सामान जब्त किया है।
पुलिस ने आरोपियों के पास से सामान जब्त किया है।

जेठानी की प्रॉपर्टी नहीं पचा पाई देवरानी
वैभव वेंकटेश विहार, एयरोड्रम थाना क्षेत्र का रहने वाला है। जूनी इंदौर में उसकी एल्यूमीनियम पार्टिशन की दुकान है। मोमिनपुरा का रहने वाला अरबाज उसकी दुकान पर काम करता है। अरबाज के साथ मिलकर उसने वारदात को अंजाम दिया।

पूछताछ में वैभव ने बताया कि माधुरी बार-बार कहती थी कि उसकी जेठानी के पास ज्यादा प्रॉपर्टी है। जेठानी की शादी में ससुराल वालों ने ज्यादा सोना चढ़ाया था, जबकि मेरी शादी में कम दिया। जेठानी ने साकेत कॉलोनी में मकान भी लिया है। मेरे पास कुछ नहीं है। उसने मुझसे मदद मांगी। उसने कहा था कि तुम आकर सोना और रुपए चुरा ले जाओ।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
वारदात को याेजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया गया। प्लानिंग के तहत घटना वाले दिन माधुरी सास-ससुर को डॉक्टर को दिखाने के बहाने बाहर लेकर गई। घर पर कोई नहीं था। इससे पहले माधुरी ने पूरा घर दिखा दिया था। घटना वाले दिन माधुरी घर का दरवाजा खुला छोड़ गई, ताकि घर में आसानी से जाया जा सके।

इसके बाद दोनों ने मिलकर चोरी की। वापस आकर देखा, तो घर का दरवाजा टूटा हुआ था। अंदर लॉकर से सामान गायब था। हालांकि पुलिस ने बताया कि शुरुआत से ही घटना में करीबियों पर ही शक था। ढाई घंटे तक घर के नौकरों से भी पूछताछ की गई।