पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डीएविवि की एग्जाम शुरू:सेंटरों पर ग्रुप में नजर आए स्टूडेंट्स, सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं हुआ पालन

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देखिये एग्जाम सेंटर पर ऐसे पहु - Money Bhaskar
देखिये एग्जाम सेंटर पर ऐसे पहु

इंदौर के देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी की एग्जाम आज से शुरू हो गई। सुबह एग्जाम सेंटरों के बाहर स्टूडेंट्स की भीड़ नजर आई। कोविड प्रोटोकॉल के चलते 1 घंटे पहले स्टूडेंट्स को सेंटरों पर बुलाया गया था। ठंड में स्टूडेंट्स एग्जाम सेंटरों पर पहुंचे पर कई एग्जाम सेंटरों पर कोविड प्रोटोकॉल के नियमों का पालन होता हुआ नहीं दिखा।

काफी विरोध के बाद भी यूनिवर्सिटी की ऑफलाइन एग्जाम मंगलवार से शुरू हुई। एग्जाम को लेकर यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट का कहना था की पूरे कोविड प्रोटोकॉल के साथ एग्जाम कराई जाएगी। एग्जाम में शामिल होने वाले स्टूडेंट्स को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश भी दिए गए थे।

सेंटरों पर नहीं हुआ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन
एग्जाम के लिए पहुंचे स्टूडेंट्स के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होता नजर आया। सेंटरों के बाहर स्टूडेंट्स अपना रोल नंबर देखने के लिए ग्रुप में दिखे। कई स्टूडेंट्स ऐसे भी थे जो बिना मास्क के नजर आए। वहीं कई स्टूडेंट्स ऐसे थे, जिन्होंने मास्क भी ठीक तरीके से नहीं लगाया। वहीं एग्जाम हॉल में एंट्री के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग नहीं दिखाई दी। यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट ने सभी एग्जाम सेंटरों पर निर्देशित किया था कि वे कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन कराए। सुबह के सत्र में 8 हजार स्टूडेंट्स की एग्जाम आयोजित की गई थी। जिसमें साढ़े 7 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स शामिल हुए।

MA के स्टूडेंट्स को लौटाया
मंगलवार सुबह MA के कुछ स्टूडेंट्स क्रिश्चियन कॉलेज में एग्जाम देने पहुंच गए। यूनिवर्सिटी के एग्जाम कंट्रोलर ने बताया कि करीब 25 स्टूडेंट्स थे जो यहां एग्जाम देने पहुंचे थे। जिन्हें कहा गया था कि उनकी एग्जाम 2 से 5 बजे के सत्र में होगी। MA की एग्जाम को टाइम चेंज करने का नोटिफिकेशन भी जारी किया था। मंगलवार को पहले सत्र में 8 हजार, दूसरे सत्र में ढ़ाई हजार तो तीसरे सत्र में 15 हजार इस प्रकार करीब 25 हजार स्टूडेंट्स की एग्जाम रखी गई है।

व्यवस्था देखने पहुंचे छात्र नेता
यूनिवर्सिटी की ऑफलाइन एग्जाम का विरोध कर रहे एनएसयूआई के छात्र नेता सुबह एग्जाम सेंटरों पर पहुंचे और सेंटरों पर व्यवस्थाओं को देखा, लेकिन वे भी सेंटरों की व्यवस्था से नाखुश नजर आए। एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव यश यादव का कहना है कि एनएसयूआई ने मंगलवार को एग्जाम सेंटरों पर विजिट किया। जहां लापरवाही देखने को मिली। यहां कॉलेज मैनेजमेंट ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कराया। उन्होंने यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट से आग्रह किया है कि वे एग्जाम को स्थगित करें या आगे बढ़ाए नहीं तो बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स कोविड की चपेट में आ सकते है।

कोर्ट में है मामला
यूनिवर्सिटी की एग्जाम को लेकर मामला हाई कोर्ट में चल रहा है। एग्जाम को लेकर मंगलवार को फिर हाई कोर्ट में सुनवाई होगी। सोमवार को भी इस मामले में सुनवाई हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...