पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47184-1.49 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62935-0.03 %

गमलों, कोठियों, बाल्टियों, छतों पर डेंगू की सक्रियता:19 नए मरीज, छिड़काव टीमें वॉश एरिया, परिसर, छतों पर जा-जाकर डेंगू पर कर रही प्रहार

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छतों पर बारिश का जमा गंदा पानी � - Money Bhaskar
छतों पर बारिश का जमा गंदा पानी �

शहर में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। सोमवार को भी 19 नए मरीज पाए गए जिनमें 2 बच्चे हैं। खास बात यह कि कुछ क्षेत्रों में डेंगू के मरीज मिल रहे हैं वे टॉउनशिप, फ्लैट, पॉश कॉलोनियों आदि में हैं। इन स्थानों के आसपास कोई खास गंदगी नहीं थी लेकिन छिड़काव टीमों ने मौका मुआयना किया तो वॉश एरिया, परिसर में रखे गमलों, काफी समय से पानी से भरी बाल्टियों, कोठियों, छत अटालों में लार्वा नजर आया जिसे तुरंत नष्ट किया। जिन नए क्षेत्रों में मरीज मिले हैं उनमें समाजवाद नगर, श्रीनगर एक्सटेंशन, शीतल नगर, समर पार्क कॉलोनी, अनूप नगर, महावीर नगर, विजय नगर, साउथ तुकोगंज, वायएन रोड, खण्डवा रोड, ग्रीन वैले, लवकुश विहार, बैकुण्ठधाम, पलसीकर कॉलोनी आदि हैं।लोगों से अपील की गई है कि वे अपने घर परिसर तथा आसपास पानी का जमाव व गंदगी जमा न होने दें। वैसे अब तक डेंगू के 285 मरीज पाए गए हैं जिनमें से 50 बच्चे हैं। राहत वाली बात यह कि इनमें सिर्फ एक महिला की मौत हुई है जबकि 20 एक्टिव मरीज हैं और एक मरीज ही भर्ती है।

लंबे समय से भरी पानी की कोठियों पर भी छिड़काव।
लंबे समय से भरी पानी की कोठियों पर भी छिड़काव।

वैसे रविवार को डेंगू के 21 नए मरीज मिले थे। ये मरीज सिलीकॉन सिटी, अन्नपूर्णा, द्वारकापुरी, विदुर नगर, शिव सिटी, एलआईजी, सदर बाजार, रामबाग, वैशाली नगर, लोधी मोहल्ला, दशरथ बाग, सुंदर नगर, शांति नगर, नेमी नगर आदि क्षेत्रों के थे। इनके सहित अब डेंगू मरीजों की कुल संख्या 285 हो गई है। प्राइवेट अस्पतालों में भी डेंगू के मरीज काफी पहुंच रहे हैं। इससे कुल संख्या 300 से ज्यादा हो सकती है। वैसे इस साल डेंगू से एक गर्भवती महिला की मौत हुई है। नए डेंगू मरीज जिन क्षेत्रों में मिले हैं वहां लार्वा सैंपल लेने के साथ छिड़काव किया जा रहा है।

शनिवार को ब्रज विहार, परिवहन नगर, सुखलिया, नंदा नगर, खजराना, एकता नगर,ओमेक्स सिटी में मिले हैं जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में लिंबोदी, नायता मुंडला व देपालपुर में मरीज मिले थे। इसके पूर्व शुक्रवार को भवानी नगर, विजय नगर, सुखलिया, स्कीम 114, इंडेक्स सेटेलाइट, पद्मावती, ब्रजनयनी, पालिया, बर्फानी धाम, ग्रीन वैले, साकेत, मंगल सिटी, स्कीम 134 में 21 मरीज मिले थे। गुरुवार को लिम्बोदी, इंद्रपुरी, परदेशीपुरा, पद्मावती कॉलोनी, कुंदन नगर, तेजाजी नगर, ट्रैजर टॉउनशिप, भोलाराम उस्ताद मार्ग, स्कीम 114, भगवती नगर, जनता क्वार्टर, नेहरू नगर, एमआईजी, आम्बेडकर नगर, लाड कॉलोनी, पल्हर नगर व हाट पीपल्या क्षेत्र मरीज मिले थे।

बीते दिनों में धार कोठी, वंदना नगर, साउथ तुकोगंज, सुदामा नगर, निधिवन कॉलोनी, भगतसिंह नगर, क्रिस्टल अपार्टमेंट, अभिनंदन अपार्टमेंट, भोलाराम उस्ताद मार्ग, पीपल्याराव, वंदन नगर, सुदामा नगरा, ग्राम मुंडला व बदनावर मरीज मिले थे। फिर कैट कॉलोनी, नंदबाग, आजाद नगर, अवंतिका नगर, हिम्मत नगर, पवनपुरी, बर्फानी धाम, आदर्श बिजासन नगर, श्रवण बाग कॉलोनी, भागीरथपुरा, मौर्य नगर, विद्या नगर, श्रीबाल गर्ल्स होस्टल आदि क्षेत्रों में मरीज मिले । शनिवार को इंदौर के राजेंद्र, क्लर्क कॉलोनी, सांई सिटी, स्कीम 78, न्यू गौरी नगर, स्कीम 134, सांई सिटी, ओल्ड पलासिया क्षेत्र में डेंगू के मरीज मिले थे। रविवार को शुभम पैलेस, खातीवाला टैंक, स्कीम 51, महालक्ष्मी नगर, साउथ तुकोगंज, सहज हॉस्पिटल, शिव सिटी, गृह नगर होस्टल, आरएपीटीसी, ब्रह्मपुरी, पीपल्याराव, आनंदपुरी, गणेश नगर, आनंदपुरी, खंडवा नाका, एलआईजी व तलावली चांदा में मिले नए मरीज मिले थे। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. दौलत पटेल ने बताया कि जिन भी क्षेत्रों में मरीज पाए गए वहां घरों के गमले, बगीचों, अटाला आदि में पानी जमा पाया गया। इनके सहित अब अन्य स्थानों पर भी तेजी से छिड़काव किया जा रहा है।
इन क्षेत्रों में भी मिल चुके हैं डेंगू के मरीज

इसके पूर्व गोविंद कॉलोनी, गीता भवन, भाग्यश्री कॉलोनी, प्राइम सिटी, औरंगपुरा (धन्नड), शांति पथ रोड, आलोक नगर, मूसाखेड़ी, स्कीम 94, विनायक टॉउनशिप, सिमरोल, देपालपुर, भंवरकुआ, अहीरखेड़ी, बर्फानीधाम, न्यू द्वारकापुरी, उदापुरा, नृसिंह बाजार, मेघदूत नगर, गीता भवन, नंदा नगर, सरदार सरोवर नगर, वल्लभ नगर, खजराना, नेहरू नगर, ब्रह्मपुरी कॉलोनी, नरवल कांकड़ (सांवेर), प्रोफेसर कॉलोनी, बाणगंगा, महू, तुलसी नगर, विजय नगर, स्कीम 11, मीना नगर, जगजीवनराम नगर, श्रीनगर एक्सटेंशन, आनंद नगर एक्सटेंशन, पीपल्याहाना, विजय नगर, जगजीवन राम नगर व गुरु नगर आदि क्षेत्रों में डेंगू के मरीज मिले थे। कुछ समय पहले एक गर्भवती महिला की भी डेंगू से मौत हुई थी जबकि डॉक्टरों का कहना था कि उसे अन्य बीमारियां भी थी। पिछले हफ्ते स्कीम 114, गोयल विहार, सुदामा नगर, इनकम टैक्स कॉलोनी, श्रीजी वैली, वंदना नगर, वल्लभ नगर, ग्राम काडवाली, एमजीएम गर्ल्स, बॉयज व बीएससी नर्सिंग होस्टल, मनोरमागंज, बिचौली मर्दाना, लक्ष्मीबाई नगर, खातीवाला टैंक, रेवती नगर (अरबिंदो अस्पताल के पास), भानगढ़ व हातोद में डेंगू के मरीज मिले थे।

बारिश का पानी भी जमा नहीं होने दें

- जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. दौलत पटेल के मुताबिक डेंगू जमे हुए पानी में पनपने वाले मच्छरों के काटने से होता है जबकि डेंगू एडीज इजिप्टी (मादा मच्छर) के काटने से फैलता है। यह बुखार मच्छरों द्वारा फैलाई जाने वाली बीमारी है। यह स्थिति तब बनती है घरों में या आसपास एक ही स्थान पर बहुत दिनों से पानी जमा हो। जैसे कूलर, वॉश एरिया, सिंक, गमलों आदि भी कई बार पानी जमा रहता है जो डेंगू का कारक बनता है।

- लोगों से अपील की गई है कि हाल ही में बारिश हुई है जिससे घरों के आसपास कई स्थानों पर पानी जमा हो जाता है। इसे भी जमा नहीं होने दें और निकासी का प्रबंध करें।

खबरें और भी हैं...