पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Permission Sought To Drive Horse Cart And Bullock Cart Between Indore To Khandwa, Announcement Of 1 Lakh Reward To CM

इंदौर-खंडवा रोड पर घोड़ा-बैलगाड़ी चलाने की मांग:कांग्रेस का अनूठा प्रदर्शन, कहा- CM इस रोड से कार लेकर जाएं, 1 लाख रुपए इनाम देंगे

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर में नवलखा बस स्टैंड पर कांग्रेस ने प्रदर्शन किया। - Money Bhaskar
इंदौर में नवलखा बस स्टैंड पर कांग्रेस ने प्रदर्शन किया।

इंदौर-खंडवा रोड की खराब हालत पर इंदौर कांग्रेस ने घोड़ा और बैलगाड़ी के साथ प्रदर्शन किया। नवलखा बस स्टैंड पर कांग्रेस नेता जमा हुए। इंदौर से खंडवा तक 400 घोड़ा और बैलगाड़ियां चलाने की अनूठी मांग की।

गाड़ियों को नाम दिया - चार्टर्ड हॉर्स परिवहन यात्री सेवा, मप्र सीएम इन वेटिंग एक्सप्रेस, राज्य परिवहन बैलगाड़ी यात्री सेवा, मप्र घोषणा वीर एक्सप्रेस। इसके साथ ही सीएम शिवराज सिंह चौहान और वीडी शर्मा के खंडवा चुनाव प्रसार में इंदौर से खंडवा तक कार से जाने पर 1 लाख रुपए का इनाम देने की भी घोषणा की है।

इंदौर से खंडवा के बीच सड़कों की खराब हालत और गड्‌ढ़ों को लेकर कांग्रेस ने विरोध किया। मप्र कांग्रेस कमेटी प्रदेश सचिव राकेश सिंह यादव ने कहा- सीएम शिवराज, वीडी शर्मा और भाजपा के नेता भोपाल से हेलिकॉप्टर में बैठकर सीधे खंडवा में उतरते हैं। वे इंदौर से खंडवा कार से नहीं जा सकते, क्योंकि इस रोड की हालत खराब है। खंडवा पहुंचने में 6 घंटे का वक्त लग रहा है। यात्री भी बसों में जान जोखिम में डालकर जा रहे हैं। वे बोले- जो सीएम इंदौर से खंडवा के बीच रोड के गड्‌ढे नहीं भर सकते। वे खंडवा में बड़े-बड़े वादे कर रहे हैं।

बैलगाड़ी- घोड़ा गाड़ी की तैयार।
बैलगाड़ी- घोड़ा गाड़ी की तैयार।

1 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा
1 लाख रुपए का नाम इनाम देने की घोषणा करते हुए कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान और वीडी शर्मा इंदौर से खंडवा कार में बैठकर जाते हैं, तो वे 1 लाख का इनाम भी सीएम को देंगे। इसके साथ ही वे कार और पेट्रोल भी उन्हें मुहैया कराएंगे। इसमें बैठकर वे इंदौर से खंडवा जा सके, लेकिन वे ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि वे जान जोखिम में नहीं डालना चाहते हैं।

उनका कहना है कि इंदौर से खंडवा के बीच चलने वाली बसों को बंद कर दें। चार्टर्ड हॉर्स यात्री सेवा और राज्य परिवहन बैलगाड़ी सेवा शुरू कर दें, ताकि बेरोजगारों को भी रोजगार मिल सकेगा। सरकार के पोर्टल पर 80 हजार बेरोजगारों ने अपने नाम नोट कराए है और सड़क किनारे ढेला लगाने की अनुमति मांगी है।