पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

17 दिनों में 30 गुना बढ़ी एक्टिव केसों की संख्या:हॉस्पिटल एडमिशन 2%, कलेक्टर; यही ट्रेंड रहा तो 10 हजार मरीज होने पर नहीं लगेंगी पाबंदियां

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में कोरोना की तीसरी लहर में मरीजों की संख्या 2 हजार से ज्यादा ही आ रही है जबकि रफ्तार तो 1 जनवरी से ही बढ़ रही है। एक्सपर्टस ने फरवरी के दूसरे हफ्ते में तीसरी लहर के पीक के आने की आशंका जताई है लेकिन दिनों जिस तेजी से एक्टिव केसों की संख्या बढ़ रही है उससे चिंता जरूर है। 1 जनवरी को 349 एक्टिव केस थे जो 17 दिनों में 30 गुना बढ़ गए। ऐसे में संभव है कि जब फरवरी में कोरोना की तीसरी लहर पीक पर होगी तो एक्टिव मरीजों की संख्या भी काफी तादाद में होगी। मामले में कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि अभी कोविड हॉस्पिटल एडमिशन 2% है। अगर यह ट्रेंड रहा तो 10 हजार मरीज भी आए तो बंद की आवश्यकता नहीं होगी।

कलेक्टर ने कहा कि यह कोविड के हॉस्पिटल एडमिशन पर डिपेंड करता है। अगर हॉस्पिटल एडमिशन नहीं बढ़ता है तो चिंता की बात नहीं होती है। होम आइसोलेशन वालों को फोन कर फॉलोअप लिया जा रहा है व उनकी मॉनिटरिंग की जा रही है। अगर हॉस्पिटल एडमिशन की संख्या बढ़ती है और असर दिखता है तो फिर विचार किया जाएगा। चिंता तो अभी भी कर रहे हैं लेकिन जहां तक शहर की गतिविधियों को नियंत्रित करने को लेकर है ऐसी स्थिति नहीं है कि पाबंदियां बढ़ाई जाए। हम नजर रखे हुए हैं। अभी हॉस्पिटल एडमिशन को लेकर ट्रेंड चल रहा है कि 2% मरीज एडमिट हैं।अगर यही ट्रेंड चलता रहा तो 10 हजार मरीज भी आए तो किसी प्रकार के बंद करने की आवश्यकता नहीं आएगी। उधर, भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर भी पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि स्मार्ट सिटी कार्यालय में भी 6 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं जिन्हें होम आइसोलेट किया गया है।

इसके पूर्व कलेक्टर मनीष सिंह ने संकेत दिए थे कि 1 से 13 फरवरी तक कोरोना का पीक हो सकता है। इसके पूर्व जिला क्राइसिस कमेटी के सदस्य डॉ. निशांत खरे कह चुके हैं कि नया वैरिएंट बहुत तेजी से फैलता है और ज्यादा आश्चर्य नहीं कि एक दिन में 5 हजार से ज्यादा पॉजिटिव मरीज आए। ऐसे में एक्टिव मरीज फिर बढ़ेंगे। अभी जो ट्रेंड चल रहा है वह चौंकाने वाला है। सोमवार को एक दिन में 2106 मरीज मिले हैं जबकि एक्टिव केस 11925 हैं।

ऐसी चल रही एक्टिव केसों की रफ्तार

1 जनवरी से 17 जनवरी 2022

तारीख एक्टिव केस रफ्तार

1 जनवरी 349 -

2 जनवरी 438 -

3 जनवरी 550 -

4 जनवरी 820 2 गुना

5 जनवरी 1270 3 गुना

6 जनवरी 1776 5 गुना

7 जनवरी 2221 6 गुना

8 जनवरी 2683 7 गुना

9 जनवरी 3182 9 गुना

10 जनवरी 3869 11 गुना

11 जनवरी 4825 14 गुना

12 जनवरी 5620 16 गुना

13 जनवरी 6626 18 गुना

14 जनवरी 7552 21 गुना

15 जनवरी 8940 25 गुना

16 जनवरी 10313 30 गुना

17 जनवरी 11925 30 गुना

यह है मौजूदा 17 दिनों के बढ़ते एक्टिव केसों का ट्रेंड। ऐसे में 1 फरवरी 13 फरवरी तक पीक आता है तो पेशेंट्स की संख्या बेहताशा बढ़ेगी। इसके पूर्व 12 मई को सबसे ज्यादा 18067 एक्टिव केस थे जबकि अभी 17 जनवरी को करीब 12 हजार एक्टिव केस हैं। खुद कलेक्टर मनीष सिंह कह चुके हैं कि इस दौरान 7 हजार पेशंट्स हॉस्पिटलाइज हो सकते हैं।

खबरें और भी हैं...