पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

104 फीट सड़क के लिये टूटेंगे 100 साल पुराने आशियाने:मास्टर प्लान में नहीं जिक्र, 60 फीट सड़क के लिये पहले भी दे चुके हैं 20 फीट हिस्सा

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर में स्मार्ट सिटी के तहत किये जा रहे कामों को लेकर कुलकर्णी भट्‌टे का दौरा करने पिछले दिनों नगर निगम कमिश्नर पहुंची थी। यहां उन्होंने पुल के पहले बनी सड़क की चौड़ाई भी कम दिखी थी। जिसमें अफसरों से सर्वे कराकर एकाएक यहां सड़क चौड़ीकरण का प्रस्ताव मांगा गया। तीन दिन पहले यहां 50 से अधिक घरों और निगम के मार्केट के लोगों को नोटिस दिए गए है। जिसमें सोमवार के बाद कभी भी नगर निगम यहां अतिक्रमण की कार्रवाई कर सकता है। रहवासियों की मानें तो लगभग 10 साल पहले 60 फीट की सड़क को लेकर वे अपने 20 फीट आशियाने तोड़ चुके हैं। जिसमें कई घरों का पुन निर्माण ही नहीं हुआ। दूसरी बार फिर से सड़क के दोनों छोर को तोड़ने के लिये नोटिस जारी कर दिए गए। जिसके बाद परिवारों के पास रहने के लिये जगह ही नहीं बचेगी। नगर निगम ने मास्टर प्लान का प्लान बताकर 16 जनवरी 2022 को यहां व्यापारी और रहवासियों को नोटिस दिए हैं। जिसमें यह नोटिस में करीब 50 के लगभग घर और नगर निगम मार्केट की मिलाकर इतनी ही दुकानें है। रहवासियों का आरोप है कि सुभाष नगर चौराहे से पहले भी रोड 100 फीट नहीं है और भंडारी ब्रिज 50 फीट का है इसके बाद भी यहां 100 फीट से अधिक की सड़क मानी जा रही है। यह सड़क का निर्माण स्वेदशी मिल गेट से लेकर कुलकर्णी भट्‌टे के यहां तक किया जा रहा है।

19 परिवारों को नहीं बचेंगी जगह
यहां पर सड़क निर्माण के दौरान 19 परिवार ऐसे हैं। जिन्हें रहने के लिये जगह नहीं बचेगी। रहवासी सुनील अग्रवाल ने बातचीत में बताया कि पहले हुए 60 फीट के चौड़ीकरण में उनका और अन्य रहवासियों का 20 फीट हिस्सा टूट चुका था। लेकिन अब सड़क बनी तो 19 परिवार सड़क पर आ जाएंगे। उन्होंने मिल की जमीनों पर प्लॉट देने को लेकर प्रशासन से गुहार लगाई है। लेकिन नगर निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल ने रहवासियों के मिलने से भी इंकार कर दिया।

1965 में बनाया खुद का मार्केट भी तोड़ेगा निगम
नगर निगम ने प्रदेश का पहला ऐसा मार्केट 1965 में बनाया था। जिसमें 51 दुकानें थी। इसे भी अब नगर निगम तोड़ने की तैयारी में है। वहीं भंडारी मिल का पुल 15 मीटर चौड़ा है। जिससे दोगुनी चौड़ी सड़क का निर्माण नगर निगम दोबारा करने जा रहा है। यहां पूरा काम कार्यपालन यंत्री अनूप गोयल की देखरेख में किया जा रहा है। उन्होंने मास्टर प्लान का हवाला देते हुए नियम पूर्वक काम करने की बात कही है।

खबरें और भी हैं...