पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60661.3-0.43 %
  • NIFTY18099.95-0.43 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473800.04 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646780.63 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • MR 10 And Rau Circle Flyover To Be Completed In Three Years; Bypass, Both The Entry Points Of The City Will Be Jam Free

मंडे पॉजिटिव:MR-10 और राऊ सर्कल फ्लायओवर तीन साल में होंगे पूरे; बायपास से शहर के दोनों एंट्री पॉइंट होंगे जाम मुक्त

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसी साल दिसंबर में शुरू होंगे तीन बड़े प्रोजेक्ट, ​​​​​​​हरदा​​​​​​​ की ओर 1.2 किमी का अंडरपास भी बनेगा। - Money Bhaskar
इसी साल दिसंबर में शुरू होंगे तीन बड़े प्रोजेक्ट, ​​​​​​​हरदा​​​​​​​ की ओर 1.2 किमी का अंडरपास भी बनेगा।
  • 154 करोड़ तीनों प्रोजेक्ट की लागत, 2024 तक काम पूरा करने का लक्ष्य

राऊ-देवास बायपास पर संभवत: इसी साल दिसंबर से तीन बड़ी योजनाओं की शुरुआत हो जाएगी। इसमें पहला बेस्ट प्राइस के सामने एमआर-10 वाले हिस्से में एक किलोमीटर लंबा थ्री लेयर फ्लायओवर, रालामंडल वाले हिस्से में व्हीकल अंडरपास और राऊ चौराहे पर एक किलोमीटर लंबा फ्लायओवर का काम शामिल है।

एमआर-10 फ्लायओवर 79.32 करोड़, रालामंडल अंडरपास 28 करोड़ और राऊ चौराहे वाले फ्लायओवर की लागत 47 करोड़ रुपए है। एमआर 10 पर थ्री लेयर फ्लायओवर बनने से इस हिस्से में जाम लगने की बड़ी समस्या खत्म होगी।

300 मीटर की टनल से गुजरेंगे वाहन
सांसद शंकर लालवानी ने बताया एनएचएआई ने जो डिजाइन तैयार की है, उसमें एनएच-34 इंदौर-एदलाबाद पैकेज-2 तेजाजी नगर से बलवाड़ा तक में 32.4 किलोमीटर का काम 1236 करोड़ रुपए में होना है। इसके बनने से वनक्षेत्र भेरूघाट में वाहनों की आवाजाही सुगम हो जाएगी। इसमें भेरूघाट वाले हिस्से में 300 मीटर लंबी टनल और चोरल घाट के साथ भेरूघाट में 350 मीटर का डक्ट रहेगा।

इसमें ऊपर के हिस्से में पहाड़ होगा और नीचे के हिस्से में टनल के जरिए फोरलेन से वाहन गुजर सकेंगे। वर्तमान में ऐसा ही मार्ग दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के सवाई माधोपुर वन क्षेत्र में भी किया जा रहा है।

1. एमआर-10 फ्लायओवर : बेतरतीब बोगदों से भी बचाएगा

यह फायदा

बायपास से शहर में प्रवेश करने के दौरान बेस्ट प्राइस के पास जाम नहीं लगेगा। इंदौर की आगरा-मुंबई बायपास पर सीधी कनेक्टिविटी मिलेगी। इंदौर से हरदा की तरफ का 1.2 किलोमीटर का अंडरपास भी बनेगा, ताकि वाहन सीधे हरदा की ओर निकल सकें। एमआर-10 वाले रास्ते से राऊ-देवास बायपास को जोड़ने वाले हिस्से पर आए-दिन स्कूल बस और अन्य वाहनों के कारण आधे से डेढ़ घंटे तक जाम लगता है।

शादियों के सीजन या फिर दुर्घटना की स्थिति में ट्रैफिक और ज्यादा गुत्थमगुत्था हो जाता है। फ्लायओवर बनने से इस परेशानी से निजात मिलेगी। ऐसा बायपास के बेतरतीब बोगदों की डिजाइन के कारण होता है।

​​​​​​

खबरें और भी हैं...