पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58461.291.35 %
  • NIFTY17401.651.37 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47394-0.41 %
  • SILVER(MCX 1 KG)60655-1.89 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Master Plan Stroke For Traffic; Where There Is A Market, There Will Be Parking, Then The Situation Will Improve

मास्टर प्लान 2031:ट्रैफिक के लिए मास्टर प्लान स्ट्रोक; जहां बाजार, वहीं पार्किंग बने, तब सुधरेंगे हालात

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ऐसी बसाहट हो कि व्यक्ति को अपने घर के पास ही बाजार, दुकान, दफ्तर उपलब्ध हो
  • 8 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत किया जाए जमीन का कमर्शियल यूज

इंदौर विकास योजना यानी मास्टर प्लान 2031 तैयार करने से पहले अलग-अलग सेक्टर से बात कर सुझाव लेने का दौर जारी है। सोमवार को दाल, अनाज, लोहा व्यापारी, होटल एसोसिएशन के पदाधिकारी शामिल हुए। सबसे बड़ा मुद्दा पार्किंग की समस्या का रहा। कलेक्टर ने कहा कि मास्टर प्लान में हर बाजार के पास ही पार्किंग की व्यवस्था की जाए।

एसोसिएशन पार्किंग को तैयार करने के लिए पैसा देने को तैयार है। प्लान में इसके लिए अलग से प्रावधान हो। विकास योजना में पार्किंग के उपयोग वाली जमीन अलग से चिह्नित होगी। आने वाले समय में इंदौर बड़ी कमर्शियल सिटी होगा। यहां पर जमीन के कमर्शियल यूज का प्रतिशत 8 से बढ़ाकर 12 तक किया जाना चाहिए। वहीं ऐसी बसाहट का प्रावधान किया जाए कि व्यक्ति को घर के पास ही बाजार, दुकान, दफ्तर उपलब्ध हो।

होटल एसोसिएशन, दाल, अनाज, लोहा व्यापारियों से 5 बड़े मुद्दों पर रायशुमारी -

आबादी... 2031 में 60 लाख होगी, महानगरों जैसी हाईराइज बनाना होंगी

क्रेडाई के संदीप श्रीवास्तव ने कहा कि 2031 में इंदौर की आबादी 60 लाख होने जा रही है। टीएंडसीपी ने ही इसका अंदाज लगाया है। ऐसे में अब व्यापारिक विस्तार के लिए लैंडयूज फ्री किए जाने चाहिए। महानगरों में तीन हजार वर्गफीट में 20-20 मंजिल की बिल्डिंग बन रही है। हमारे यहां तो नियम ही नहीं है। बढ़ती आबादी को कैसे एडजस्ट करेेंगे। टीएंडसीपी के संयुक्त संचालक एसके मुदगल ने कहा कि महानगरों के बिल्डिंग नियम देखकर विचार किया जाएगा।

व्यापार-उद्योग... 500 हेक्टेयर जमीन आरक्षित हो

दाल मिल एसो. के सुरेश अग्रवाल, गोपालदास अग्रवाल ने कहा कि प्लान में दाल, फ्लोर व इससे जुड़े व्यवसाय के लिए 500 हेक्टेयर जमीन आरक्षित की जाए। उसी के पास ट्रांसपोर्ट हब, पार्किंग की जगह हो। राऊ से कैलोद के बीच एक रेलवे लाइन भी प्रस्तावित की जाए। एेसा हुआ तो इस उद्योग को बहुत ऊंचाई मिलेगी।

ट्रैफिक... शहर के चारों तरफ पार्किंग की व्यवस्था हो

कलेक्टर सिंह ने कहा कि इंदौर के चारों तरफ पार्किंग बनाने का प्रावधान जोड़ा जाए। इन पार्किंग लॉट में मंडी में आने-जाने वाले ट्रक पार्क किए जा सकेंगे। इन पार्किंग एरिया का मेंटेनेंस भी मंडी एसोसिएशन द्वारा किया जा सकेगा। इससे शहर में बढ़ रहा ट्रैफिक भी व्यवस्थित होगा। उन्होंने अपर कलेक्टर पवन जैन को निर्देश दिए कि वे पार्किंग लॉट बनाने के लिए इंदौर बायपास के समीप, नेमावर व शहर की परिधि क्षेत्रों में शासकीय भूमि चिह्नित करें। कमर्शियल बिल्डिंग में मैकेनाइज्ड कार पार्किंग की सुविधा पर भी इनेबलिंग क्लॉज प्रारूप में जोड़ा जाए।

ट्रांसपोर्ट नगर... कैलोद गांव के पास टटोलें संभावना

इंदौर में ट्रांसपोर्ट नगर भी बनाए जाएं, जिसमें विशेष तौर पर कैलोद गांव के निकट भूमि पर शिफ्ट की जा रही कृषि उपज मंडी के समीप भी बड़े क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट नगर का निर्माण किया जाए। कैलोद गांव में बनाई जा रही मंडी के पास ही दाल मिल व अन्य मिलों की स्थापना का प्रावधान भी विकास योजना के प्रारूप में किया जाए।

कोचिंग संस्थान... स्वरूप तय होना चाहिए

कलेक्टर ने कहा कोचिंग संस्थानों में छात्र-छात्राओं को दी जाने वाली मूलभूत सुविधाएं, कक्षाओं में न्यूनतम व अधिकतम छात्रों की संख्या और अन्य जरूरी प्रावधानों को भी योजना के प्रारूप में शामिल किया जाए। कलेक्टर ने संयुक्त संचालक मुद्गल को निर्देश दिए कि विकास योजना के सभी स्टेकहोल्डर से पृथक से बैठक लेकर चर्चा की जाए। बैठक में सुमित सूरी, प्रमोद डाफरिया, इसहाक चौधरी, हंसराज जैन सहित कई व्यापारिक संगठन के पदाधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...