पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फ्रेंचाइजी के नाम पर ठगी:ऐड एजेंसी और दवाई फ्रेंचाइजी के नाम पर ठगे रुपए, 3 के खिलाफ केस दर्ज

इंदौर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी केपी सिंह। - Money Bhaskar
आरोपी केपी सिंह।

तुकोगंज पुलिस ने मेडिकल स्टोर के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपी में एक महिला भी शामिल है। तीनों आरोपी एक ही परिवार के हैं, जिनके खिलाफ पहले भी धोखाधड़ी के अलग-अलग मामले दर्ज हो चुके हैं। तुकोगंज थाना प्रभारी कमलेश शर्मा के अनुसार शिवमसिंह निवासी क्लासिक पूर्णिमा स्टेट खजराना रोड की शिकायत पर कार्रवाई हुई है। आरोपी केपी सिंह, भाई रूपेंद्रसिंह और उर्वशी पति रूपेंद्रसिंह हैं।

बताया जा रहा है कि शिवम से इन लोगों ने अनुंबध कर लाखों रुपए ले लिए। बाद में शर्तों का उल्लंघन किया।

केपी सिंह की ग्लेरियस ट्राइफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, ऑक्सीजन लाइफ लाइन रिटेल लिमिटेड और शौर्यादित्य विज्ञापन के खिलाफ करीब 5 शिकायतकर्ताओं ने कार्रवाई करवाई थी। आरोप था कि कंपनियों के संचालकों ने फ्रेंचाइजी देने का झांसा देकर कई लोगों से रुपए ऐंठे हैं। केपी सिंह सहित मामले में आरोपी बने उसके रिश्तेदार फरार बताए जा रहे हैं। हालांकि केपी सिंह फेसबुक पर अभी भी सक्रिय है। फरारी के दौरान भी वह कई पोस्ट शेयर कर रहा है। कुछ पोस्ट में वह बुरे दिनों की व्यथा भी डाल रहा है।

फरियादी ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने मेडिकल स्टोर खुलवा कर ऑनलाइन दवाई सप्लाई करने का झांसा दिया। इसके नाम पर उससे लाखों रुपए हासिल कर लिए। मामले को लेकर अनुबंध भी हुआ था, लेकिन बाद में अनुबंध की शर्तों का पालन नहीं किया गया। उसकी दुकान भी बंद करवा दी। उसे लाखों रुपए का नुकसान हुआ।

फरियादी के साथ 3 साल पहले धोखाधड़ी की यह वारदात हुई थी। उसने पुलिस को शिकायत की। जांच के बाद मामले में केस दर्ज हुआ है । गौरतलब है कि आरोपी शहर के संभ्रांत परिवार के लोग हैं। विज्ञापन फील्ड में उनका बड़ा नाम है, लेकिन ऐड एजेंसी और दवाई फ्रेंचाइजी के नाम पर उन्होंने कई लोगों को ठगा है। अलग-अलग थानों में उनके खिलाफ केस भी दर्ज हुए हैं।