पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58563.920.12 %
  • NIFTY17406.950.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46149-0.06 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59920-1.88 %

पांच सेंटरों पर गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन:पहले दौर में 220 से ज्यादा को महिलाओं को लगे टीके, पहले की जा रही काउंसलिंग

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में वैक्सीन की कमी के चलते अभी सिर्फ गर्भवती महिलाओं को ही वैक्सीन लगाई जा रही है। इसी कड़ी में शुक्रवार को पांच सेंटरों एमवाय अस्पताल, बाणगंगा सरकारी अस्पताल, पीसी सेठी अस्पताल, मांगीलाल चूरिया अस्पताल व नंदानगर प्रसूति गृह में वैक्सीनेशन शुरु हुआ। यहां अभी सिर्फ कोवैक्सीन ही लगाई जा रही है। दोपहर डेढ़ बजे तक यहां 220 से ज्यादा गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। हर महिला को वैक्सीन लगाने के पहले काउंसलिंग की जा रही है।

खास बात यह कि गर्भवती महिलाओं के लिए भी स्लॉट बुकिंग सिस्टम है लेकिन अगर किसी कारणवश कोई महिला बुक न कराकर सीधे सेंटर पहुंच रही है, उसे भी ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन कर वैक्सीन लगाई जा रही है। विभाग का टारगेट हफ्ते में मंगलवार व शुक्रवार को अधिकतम गर्भवती महिलाओं को वैक्सीनेट करना है। जिले में करीब 70 हजार गर्भवती महिलाएं हैं इनमें से करीब दो हजार महिलाओं को पहला डोज लग चुका है। वैसे इन दिनों जिले में वैक्सीन की कमी है लेकिन जितनी भी उपलब्ध हैं, उसे लेकर गर्भवती महिलाओं को प्राथमकिता दी जा रही है।

दरअसल 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों का पहला डोज 100 फीसदी हो गया है। दूसरी ओर संभावित तीसरी लहर में सबसे ज्यादा खतरा गर्भवती महिलाओं व बच्चों को ही है, इसे लेकर महिलाओं को वैक्सीन लगाई जा रही है। टीकारण अधिकारी डॉ. तरुण गुप्ता ने बताया कि वैक्सीन की उपलब्धता होने पर अन्य पात्र लोगों के लिए शनिवार को वैक्सीनेशन होगा व सेंटर बढ़ाए जाएंगे। वैसे कुल 28 लाख से ज्यादा लोग वैक्सीन के पात्र हैं। इनमें से 85 फीसदी को पहला व 24 फीसदी को दूसरा डोज लगाया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...