पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नर्सिंग छात्रा सुसाइड केस में पुलिसवाले पर FIR:इंदौर में युवती ने लगा ली थी आग, दो दिन पहले रायसेन से आकर झगड़ा था पुलिसकर्मी

इंदौर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर के छतरीपुरा इलाके में 12 नवंबर को नर्सिंग स्टूडेंट सारिका की अधजली लाश मिली थी। उसके मोबाइल चैटिंग से पता चला है कि रायसेन के पुलिसकर्मी जयप्रकाश बघेल के साथ वह 5 साल से टच में थी। रूम पार्टनर के मुताबिक दोनों के बीच अफेयर था। घटना से दो दिन पहले पुलिसकर्मी सारिका से मिलने रायसेन से इंदौर आया था। दोनों में किसी बात पर झगड़ा हुआ था, इसके बाद से ही वह परेशान थी। पुलिसकर्मी पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस किया गया है।

थाना प्रभारी पवन सिंघल ने बताया कि सारिका के मोबाइल में मिली चैटिंग से साफ जाहिर है कि दोनों एक-दूसरे को लंबे समय से पहचानते थे। धार की रहने वाली सारिका इंदौर में समाजवादी इंदिरा नगर में किराए से रहती थी। उसके घर के आसपास के CCTV खंगाले तो वह शाम 4.34 बजे बजे हाथ में बोतल ले जाती दिख रही है। शाम 5 बजे उसने खुद को आग लगा ली थी। एमओजी लाइन के पास मुर्गी पालन केंद्र में उसका शव मिला था।

घर आकर 10 मिनट में फिर से निकल गई
घर आकर 10 मिनट में फिर से निकल गई

शादीशुदा है पुलिसकर्मी
पुलिस को सारिका के मोबाइल से जो चैटिंग मिली है, उससे पता चला है कि पुलिसकर्मी और छात्रा दोनों एक-दूसरे को 2017 से पहचानते थे। 2018 में नौकरी लगने के बाद जयप्रकाश रायसेन चला गया। चैटिंग से पता चला है कि वह सारिका पर शक भी करता था। जब भी वह ऑनलाइन रहती, उससे कहता - तुम किसी से बात तो नहीं कर रहीं। पुलिसकर्मी शादीशुदा है।

माता-पिता की इकलौती बेटी थी
धार की रहने वाली सारिका नर्सिंग फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट थी। यहां वर्मा यूनियन कॉलेज से पढ़ाई कर रही थी। इससे पहले से वह जयप्रकाश को जानती थी। समाजवादी इंदिरा नगर (छतरीपुरा, इंदौर) में 28 सौ रुपए किराए के कमरे में रह रही थी। उसके साथ उसकी एक सहेली भी थी। पुलिस के अनुसार सारिका मिडिल क्लास फैमिली से थी। पिता किसान हैं। मां-बाप की इकलौती बेटी थी।

इंदौर में नर्सिंग की छात्रा की जली हुई लाश मिली:वर्मा यूनियन कॉलेज से कर रही थी पढ़ाई, रायसेन के पुलिस वाले से करती थी बात

खबरें और भी हैं...