पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एयरपोर्ट पर हुई सिक्युरिटी कमेटी की बैठक:एयर इंडिया व विस्तारा जल्द करें स्टैण्ड बाय टो बार की व्यवस्था

इंदौर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में विभिन्न शहरों में फ्लाइट का संचालन करने वाली दो बड़ी कंपनियां एयर इंडिया और विस्तारा के पास इंदौर में प्लेन की हैंडलिंग के लिए टो-बार मशीनें उपलब्ध नहीं है। ये मशीनें प्लेन को खींचकर एयरोब्रिज तक लाने और धकेलकर वापस ले जाने के लिए उपयोग की जाती हैं। इनकी कमी से यात्रियों को बसों से प्लेन तक आना और जाना पड़ रहा है और सीढिय़ों से प्लेन में चढ़ना और उतरना पड़ रहा है। मामले में गुरुवार को एयरपोर्ट सिक्युरिटी कमेटी की बैठक में दोनों कंपनियों को टो-बार के साथ स्टैण्ड बाय (अतिरिक्त) की व्यवस्था करने को कहा गया है।

दरअसल टो बार नहीं होने से एयरपोर्ट एयरोब्रिज पर नहीं लग पाते हैं, उन्हें एप्रीन पर ही खड़ा करना पड़ता है। यहां तक यात्रियों को लाने और ले जाने के लिए बसों का इस्तेमाल करना पड़ता है और उतरने-चढऩे के लिए अलग से सीढिय़ां लगाना पड़ती है। इससे यात्री भी परेशान होते हैं। पिछले कई दिनों से कंपनियों की ओर से इसकी व्यवस्था नहीं किए जाने से यात्रियों को परेशानियों का सामना पड़ रहा है। जो बीमार हैं या ठीक से चल फिर नहीं सकते, उन्हें और भी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

प्रभारी एयरपोर्ट डायरेक्टर प्रबोध शर्मा ने बताया कि मुख्यालय के निर्देश के तहत सभी एयर लाइंस कंपनियां प्लेन को एयरोब्रिज पर लगाने और वापस धकेलने के लिए टो बार का इस्तेमाल करें। दूसरी ओर अधिकांश कंपनियां एयरोब्रिज पर विमानों को लगाने के लिए तो इस उपकरण का इस्तेमाल करती हैं, लेकिन धकेलने के बजाए घुमाकर वापस ले जाती हैं। इसे लेकर भी कंपनियों को निर्देशित किया कि वे टो बार की मदद से ही विमान को पीछे ले जाए। बैठक में विस्तारा और एयर इंडिया के अधिकारियों ने बताया कि उनकी मशीन खराब होने के कारण परेशानी आ रही है। इसे लेकर उन्हें स्टैण्ड बाय सहित समुचित व्यवस्था करने को कहा गया है।