पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

IIFL हुरून की सूची:102 रुपए का शेयर 3200 पर पहुंचा, 40 से कम उम्र के अमीरों में 41वें नंबर पर आए इंदौर के डबकरा

इंदौरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
-(मनीष डबकरा)। डबकरा की कार्बन क्रेडिट सर्विस की कंपनी 6 माह पहले ही बीएसई में हुई है लिस्टेड। - Money Bhaskar
-(मनीष डबकरा)। डबकरा की कार्बन क्रेडिट सर्विस की कंपनी 6 माह पहले ही बीएसई में हुई है लिस्टेड।

आईआईएफएल हुरून की एक हजार करोड़ से अधिक संपत्ति वाले देश के 40 से कम उम्र के युवा उद्यमियों की जारी सूची में इंदौर के युवा उद्योगपति मनीष डबकरा (उम्र 37 साल) को भी जगह मिली है। वे इस सूची में 1300 करोड़ की नेटवर्थ के साथ 41वें नंबर पर हैं। हालांकि देश के कुल अमीरों की सूची में उन्हें 861वीं रैंक मिली है। इसकी बड़ी वजह उनकी कंपनी के बीएसई में लिस्टिंग के बाद से चल रही लगातार तेजी है।

कार्बन क्रेडिट की सर्विस देने वाली उनकी कंपनी ईकेआई एनर्जी सर्विसेस अप्रैल 2021 में मात्र 102 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से लिस्ट हुई थी, तब से अब तक इसमें 32 गुना तेजी आ चुकी है और शेयर का भाव 3200 रुपए पर पहुंच चुका है। लिस्टेड होने से पहले कंपनी की नेटवर्थ करीब 80 करोड़ थी, जो 1300 करोड़ के पार हो चुकी है।

डबकरा इस सूची में शामिल ऐसे उद्यमी भी हैं, जो नॉन टेक्नोलॉजी कंपनी चलाते हैं और उनकी कंपनी कई संस्थानों को कार्बन क्रेडिट के कारोबार में मदद करती है। इन्हीं के चलते नगर निगम की कार्बन क्रेडिट इंटरनेशनल बाजार में इस बार आठ करोड़ रुपए में बिकी है, जो बीते साल केवल 75 लाख में बिकी थी। कंपनी प्रोजेक्ट को तैयार कराने से लेकर कार्बन क्रेडिट बेचने की सर्विस देने का काम करती है।

महू के रहने वाले हैं डबकरा, भोपाल से इंजीनियरिंग के बाद यूनिवर्सिटी के एनर्जी विभाग से किया एमटेक

डबकरा महू के हैं। उन्होंने भोपाल से इंजीनियरिंग के बाद देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के एनर्जी विभाग से एमटेक किया और इसी दौरान कंपनियों में कार्बन क्रेडिट के संबंध में ऑडिटिंग का काम भी शुरू किया। 2008 में उन्होंने कंपनी एनकिंग इंटरनेशनल स्थापित की और अप्रैल 2021 में बीएसई में कंपनी ईकेआई एनर्जी सर्विसिसे लिमटेड का आईपीओ लिस्टेड हुआ।

नेटवर्थ क्या होती है?

कंपनी की शेयर की कीमत और संपत्ति की वैल्यू, इससे बनती है नेटवर्थ, लेकिन इसमें से देनदारी या कर्ज को हटा दिया जाता है। फिर जो टोटल आता है, वह नेटवर्थ है। जैसे किसी के पास 100 करोड़ की संपत्ति है, पर 20 करोड़ का लोन है तो नेटवर्थ 80 करोड़ हुई।

इंदौर के अग्रवाल और चौरड़िया भी हैं शामिल

सूची में इंदौर के कोल कारोबारी विनोद अग्रवाल 2900 करोड़ की नेटवर्थ के साथ 494वें नंबर पर और उद्योगपति सुनील चौरडिया 1300 करोड़ की नेटवर्थ के साथ 773वें नंबर पर शामिल हैं। वहीं मप्र के सबसे अमीर दिलीप सूर्यवंशी 4100 करोड़ की नेटवर्थ के साथ 377वें नंबर पर हैं।