पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60701.57-0.36 %
  • NIFTY18099.95-0.43 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473800.04 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646780.63 %

आंखें नम:पंचेश्वर परिसर में किया प्रतिमाओं का विसर्जन कर्मचारियों ने घर-घर से एकत्रित की मूर्तियां

झाबुआएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोपहर से शुरू हुआ यह सिलसिला रात तक चलता रहा

‘अगले बरस तू जल्दी आ’ के जयघोष के साथ गणेशोत्सव का समापन रविवार को हुआ। 10 दिनों तक भक्ति-भाव से श्रीगणेश की आराधना करने वाले भक्तों ने गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया। कोरोना गाइडलाइन के चलते बड़े चलसमारोह नहीं निकले। हालांकि लोगों ने झूमते-गाते गणेशजी को विदाई दी। प्रतिमा विसर्जन के समय आंखें नम हो गईं।

रविवार को आलीराजपुर में पंचेश्वर महादेव मंदिर परिसर में प्रतिमा विसर्जन के लिए श्रद्धालुओं का तांता लग गया। घर-घर से प्रतिमा लेकर आए बच्चों ने विसर्जन पूर्व आरती कर प्रसाद बांटा। मंदिर परिसर में प्रतिमा विसर्जन के लिए पोखर बनाया गया था। किसी ने खुद प्रतिमा विसर्जित की तो कइयों ने यहां तैनात कर्मचारियों को प्रतिमा देकर विसर्जन कराया। इसके अलावा विसर्जन स्थल पर भीड़ ना हो इसके लिए नगर पालिका का वाहन घर-घर प्रतिमाएं एकत्रित करने पहुंचा। लोगों ने भी गणेशजी की आरती कर नपा के वाहन में प्रतिमा रख दी। इसके बाद कर्मचारियों ने प्रतिमा का विसर्जन पंश्चेवर मंदिर में बनाए गए पोखर में किया। दूसरी ओर कई लोग नाचते-गाते भी विसर्जन करने पहुंचे। दोपहर से शुरू हुआ यह सिलसिला रात तक चलता रहा।

खबरें और भी हैं...