पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %

दशहरा आज:इन हाइटैक शस्त्रों से सुसज्जित है पुलिस, इनसे हारते हैं समाज के शत्रु

होशंगाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुश्किल अपराधों को सुलझाने में पुलिस सफल होती है। - Money Bhaskar
मुश्किल अपराधों को सुलझाने में पुलिस सफल होती है।

दशहरे पर अस्त्र-शस्त्राें की पूजन हाेती है। पुलिस भी कंट्राेल रूम, पुलिस लाइन, थानाें में रखे शस्त्राें की पूजा करती है। राइफल-पिस्टल पुलिस के हथियार हैं ही आज जानें ऐसे 7 हाईटैक शस्त्रों के बारे में जिनसे शातिर से शातिर अपराधी हारते हैं। एसपी गुरकरन सिंह ने बताया आधुनिक समय में इन शस्त्राें काे ज्यादा उपयाेग हाे रहा है। इनसे मुश्किल अपराधों को सुलझाने में पुलिस सफल होती है।

सीसीटीवी कैमरे-

शहर में 30 जगह पर 166 सीसीटीवी लगे हैं। पुलिस की विशेष टीम कैमरे के माध्यम से बारीकी से जांच करती है।

केस : बरखेड़ा के पास हुई लूट का खुलासा सीसीटीवी से हुआ है। सभी अपराधी पकड़ाए।

काॅल डिटेल रिकाॅर्डर

अपराधी जाे अपराध करता है या भाग जाता है। पुलिस उसका पता लगाने के लिए सीडीआर का उपयाेग करती है।

केस : इंदिरा चाैक पर हुए हत्याकांड में आराेपी काजू का पता लगाने सीडीआर से लगा।

हर जगह ड्राेन से नजर

पुलिस ड्राेन से नजर भी रखती है। शहर या जिले में वीआईपी आते हैं तब ड्राेन उड़ाया जाता है। भीड़ पर नजर रहती है।

केस : नर्मदा जयंती कार्यक्रम में लोगों और सीएम की सुरक्षा की निगरानी पुलिस ने ड्रोन से की।

बम निराेधक दस्ता

पुलिस के पास स्पेशल बम निराेधक दस्ता है। यह समय-समय पर प्रमुख स्थानाें पर जांच करता है।

केस : दिल्ली काेर्ट में फायरिंग के बाद बम निराेधक दस्ते ने सुरक्षा और जांच की।

पुलिस की साइबर सेल

साइबर सेल अपराधियों की लाेकेशन, उनके बारे के मिनट टू मिनट तकनीकी जानकारी जुटाती है।

केस : इटारसी में चेन स्नैचिंग के आरोपियों का सुराग लगाने में साइबर सेल ने मदद की।

इंटर सैप्टर वीकल

​​​​​​​यातायात पुलिस इंटर सैप्टर वीकल से वाहनाें की स्पीड और हाइवे पर अपराधियों पर सख्त नजर रखेगी।

केस : ये माेबाइल गाड़ी हाईवे पर चलने वाले वाहनाें काे भी कैमरे में कैद कर रही है।

ग्लाेबल पोजिशनिंग

​​​​​​​पुलिस जीपीएस (ग्लाेबल पोजिशनिंग सिस्टम) से क्राइम के बाद आराेपियों को अपनी गिरफ्त में लेती हैं।

केस : एक आरक्षक वाहन चोरी कर भागा था। उसे पुलिस ने शिवपुरी से पकड़ा था।

खबरें और भी हैं...