पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • Couple Walking From Maihar To Mumbai With Tricolor And Ratan Tata's Picture In Hand, Said I Am Impressed By Tata's Life, Geeta Ji Will Meet

युवा दंपती की उद्योगपति रतन टाटा से मिलने जिद्द:हाथ में तिरंगा और रतन टाटा की तस्वीर लेकर मैहर से मुंबई की पदयात्रा कर रहे दंपती, बोले टाटा के जीवन से हूं प्रभावित, गीता जी करेंगे भेंट

हरदा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
युवा दंपती तिरंगा और रतन टाटा की तस्वीर लेकर पदयात्रा कर रहे। - Money Bhaskar
युवा दंपती तिरंगा और रतन टाटा की तस्वीर लेकर पदयात्रा कर रहे।

देश के टॉप उद्योगपति टाटा ग्रुप के मालिक रतन टाटा से मिलने सतना जिले के मैहर से एक युवा दंपती ने एक अनोखी जिद्द ठानी है। वे मैहर से मुंबई तक पदयात्रा पर निकले है। रविवार को हरदा जिले के खिरकिया से खंडवा की ओर उनकी यात्रा रवाना हुई है। युवा दंपती का एक ही उद्देश्य है कि वे रतन टाटा से मिलकर उन्हें भगवत गीता जी भेंट करें और उनसे अपने गांव को गोद लेने की मांग करें। जिसे लेकर यह पति-पत्नी दोनों ही पैदल हाथ में तिरंगा, रतन टाटा की तस्वीर और भारत माता की जयकारें लगाते हुए आगे बढ़ रहे है। जगह-जगह इन दंपती सराहना कर मंजिल पाने की ओर हौंसला बढ़ा रहे।

जीवन से प्रभावित होने के बाद रतन टाटा से मिलने की चाह

सतना जिले के मैहर के ग्राम लटागांव के रहने वाले राहुल पटेल बताते है कि वे दो साल से रतन टाटा के बारे में पढ़ रहे। वे उद्योगपति जरूर है। देश के लिए समर्पित है। रतन टाटा के देशहित में किए गए कार्यों से प्रभावित हुआ। इसलिए मैंने मन में उनसे मिलने की ठाना। मैं अकेला ही पदयात्रा करने वाला था। मेरी पत्नी सुलोचना (मोना) ने भी साथ चलने की इच्छा जताई। राहुल और सुलोचना मैहर से 29 अगस्त को मैहर से मुंबई तक की पैदल यात्रा निकले है। रोजाना करीब 30 किमी का सफर तय करते हुए दंपती शनिवार रात को खिरकिया पहुंचे। रविवार सुबह 10 वे खिरकिया से नया हरसूद के लिए आगे बढ़े।

युवक ने नौकरी छोड़ी, पत्नी ने ली छुट्‌टी

राहुल पटेल ने बताया वह पेशे से इंजीनियर है। इंदौर में प्रायवेट कंपनी में जॉब करता था। कुछ समय पहले ही नौकरी छोड़ दी। पत्नी सुलोचना भी इंदौर में प्रायवेट कंपनी में फैशन डिजाइनर है। एक साल पहले उनकी फेसबुक पर दोस्ती हुई। जुलाई में उन्होंने लव मैरिज की। पदयात्रा के लिए पत्नी सुलोचना ने नौकरी से छुट्‌टी ली।

सतना के युवा दंपती
सतना के युवा दंपती

15 अक्टूबर तक मुंबई पहुंचने का लक्ष्य, गीता जी करेंगे भेंट

दंपती रोजाना 30 किमी की पैदल यात्रा कर रहे है। 15 अक्टूबर तक मुंबई पहुंचकर रतन टाटा से मिलकर उन्हें गीताजी भेंट करने की मन में ठाना है। राहुल ने कहा रतन टाटा से मिलकर मेरे गांव को उन्हें गोद लेने के लिए कहूंगा। मिलने के बाद गांव में भारत सेवा संस्था शुरू करने का लक्ष्य है। जिसमें हर जाति धर्म से जुड़े व्यक्ति मिलकर मानव सेवा से जुड़े काम करेंगे। शिक्षा, पर्यावरण व सामाजिक, प्रेरणादायक काम करेंगे।

खबरें और भी हैं...