पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %

तर्पण:लोगों ने ताप्ती नदी पर पिंडदान किया, कौओं और गाय को मालपुए और पकवान खिलाए

बैतूलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पितृों को प्रसन्न करने मिलेंगे 17 दिन, तृतीया दाे दिन

सोमवार से पितृ पक्ष शुरू हो गए। इस साल पितर पक्ष 16 दिनों की जगह 17 दिनों के रहेंगे। 20 सितंबर से 6 अक्टूबर तक पितर पक्ष चलेंगे। दरअसल तृतीया की तिथि दो दिन पड़ने के कारण पितर पक्ष के दिन बढ़ गए हैं। सोमवार को पहले दिन जिनके यहां पूर्णिमा की तिथि को पूर्व में किसी पूर्वज का निधन हुआ हो उनके पितरों के नाम पर पानी देते हुए पूजन किया गया।

ताप्ती नदी पर जाकर तर्पण के साथ पिंडदान किया । ताप्ती नदी पर जाकर भी लोगों ने पूजन और तर्पण किया। कौओं और गाय को मालपुए और मीठे पकवान खिलाए गए। ताप्ती नदी जाकर भी तर्पण किया गया। ब्राह्मण भोजन भी करवाया गया।

तृतीया की तिथि दो दिन पड़ रही

पंडित हीरेंद्र शुक्ला ने बताया कि तृतीया की तारीख 23 और 24 सितंबर के दिन पड़ रही है। इस कारण इस साल पितर पक्ष के दिनों की संख्या 17 हो गई है। हर साल आमतौर पर पितृ पक्ष 16 दिन के रहते हैं। लेकिन इस साल तिथियां दो दिन पड़ने के कारण पितर पक्ष 17 दिन के हो गए हैं।

खबरें और भी हैं...