पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %

फोल्डिंग अस्पताल:दीवारें पंक्चर होने से बचाने के लिए अंदर लोहे की फ्रेम व बाहर तीन सिक्युरिटी गार्ड का पहरा

बैतूलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मरीजों को लगेगी गर्मी, आठ एसी लगाने पड़ेंगे, इन पर हर घंटे खर्च होंगे 432 रुपए

कोरोना इमरजेंसी के लिए जिला अस्पताल परिसर में टेंपरेरी फोल्डिंग अस्पताल बैलून से खड़ा तो कर दिया गया। लेकिन इस भवन के भीतर भीषण गर्मी है। भवन में केवल 4 खिड़की और दो दरवाजे हैं। इस कारण यहां तापमान ठंडा रखने के लिए अब 8 एसी लगाए जाएंगे। इसे ठंडा रखने के लिए चार-चार टन क्षमता वाले 8 एसी लगाने पड़ेंगे तब जाकर इसका तापमान सामान्य हो पाएगा।

भवन के भीतर लोहे के पलंग, सामान, टेबल कुर्सी से पीवीसी तारपोलिन के गुब्बारे में पंक्चर हो सकता है। इससे बचाने के लिए भवन के भीतर लोहे का स्टैंड बनाकर इस पर प्लाई की शीट्स बिछाई जा रही है। वहीं साइड में सुरक्षा वाल खड़ी की जा रही है। वहीं इन भवन को कोई पंक्चर न कर दे इसकी सुरक्षा के लिए दो गार्ड दिन में और एक की रात में ड्यूटी लगाई गई है। 2 बैलून हॉस्पिटल पीवीसी तारपोलिन से बनाए गए हैं। जो तेज धूप में बहुत गर्म हो रहे हैं। इसीलिए इसके भीतर मरीजों को ठंडा माहौल देने के लिए 4 टन क्षमता के 8 एसी यहां पर लगाए जाएंगे। जिसका बिजली बिल प्रतिघंटे 432 रुपए के लगभग आएगा। एसी नहीं लगे तो गर्मी में मरीजों का स्वास्थ्य यहां सुधरने की जगह और बिगड़ जाएगा।

खबरें और भी हैं...