पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नर्मदा जल से गुप्तेश्वर का कल होगा जलाभिषेक:धर्मरक्षा समिति की कांवड़ यात्रा में शामिल कांवड़िए 62 KM का सफर तय पहुंचेंगे चारुवा

हरदा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धर्म रक्षा समिति की दो दिवसीय कांवड़ यात्रा नेमावर के सिद्धनाथ महादेव मंदिर से शुरू हुई। कांवड़ यात्रा रविवार शाम हरदा पहुंची। शहर में जगह-जगह कांवड़ यात्रा का भव्य स्वागत कर पुष्प वर्षा की गई। शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए चारुवा के गुप्तेश्वर मंदिर के लिए रवाना हुई। स्टेट हाईवे पर स्थित ग्राम कांकरिया में कांवड़ यात्रा में शामिल श्रद्धालु भोजन और रात्रि विश्राम करेंगे। इसके बाद सावन मास के चौथे सोमवार सुबह को ग्राम चारुवा के प्राचीन गुप्तेश्वर मंदिर के लिए रवाना होंगे। जहां सभी नर्मदा नदी के पवित्र जल से भगवान गुप्तेश्वर का जलाभिषेक करेंगे।

कांवड़ यात्रा में करीब डेढ़ हजार से भी अधिक शिव भक्त एवं श्रद्धालु शामिल हुए। सोमवार को 62 किमी की पैदल यात्रा कर गुप्तेश्वर महादेव मंदिर पहुंचकर यात्रा समाप्त होगी। यहां श्रद्धालु नर्मदा जल से गुप्तेश्वर महादेव का महाभिषेक करेंगे। समिति के अनुसार लगातार 17 वें साल कांवड़ यात्रा निकाली जा रही है। धर्म रक्षा समिति के सुभाष शर्मा ने बताया कि धर्मरक्षा के उद्देश्य से 16 साल पहले भाई श्याम शर्मा ने कांवड़ यात्रा शुरू की थी। पहले साल बमुश्किल 200 लोग शामिल हुए लेकिन धीरे-धीरे श्रद्धालु जुड़ते चले गए और हर साल बड़ी संख्या में क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले युवा बड़ी संख्या में शामिल होते हैं।

कांवड़ियों ने लगाए बोल बम के जयकारे

बड़ी संख्या में कांवड़िये बोल बम के जयकारे लगाते हुए भोलेनाथ के भजनों पर झूमते हुए नजर आए। इस दौरान जगह जगह कांवड़ यात्रा का स्वागत हुआ। कांवड़ यात्रा में भगवान भोलेनाथ की आकर्षक पालकी भी सजाई गई। युवा नेता संदीप पटेल एवं कांवड़ यात्रा के संयोजक सुभाष शर्मा ने बताया कि क्षेत्र की खुशहाली, समृद्धि एवं किसानों की अच्छी फसल की कामना को लेकर धर्म रक्षा समिति हर साल सावन के महीने में कांवड़ यात्रा निकलती आ रही है।

खबरें और भी हैं...