पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Harda
  • Notary On The Stamp Of Rs 50, The Secretary Said There Is No Such Provision In The Panchayati Raj Act

अशिक्षित सरपंच ने शिक्षित युवा को बनाया प्रतिनिधि:50 रुपए के स्टाम्प पर की नोटरी, सचिव बोले- पंचायती राज अधिनियम में ऐसा कोई प्रावधान नहीं

हरदा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरदा जिले की हंडिया ग्राम पंचायत के नवनिर्वाचित सरपंच ने अपनी सरपंची एक युवा को सौंपने का फैसला किया है। इस प्रक्रिया को सरपंच ने 50 रुपए का स्टाम्प लिखकर पंचायत के काम करने के लिए नियुक्त किया है। सरपंच लखन का कहना है कि मैं पढ़ा-लिखा नहीं हूं। यदि मेरे सरपंच रहते किसी ने गलत जगह दस्तखत करा लिए तो क्या मैं जेल जाऊ? अतः सरपंची के दौरान कोई गलत काम ना हो इस पर निगरानी रखने के लिए मैंने अपनी स्वेच्छा से सिद्धांत को अपना प्रतिनिधि बनाया है।

सरपंच लखन ने 2 अगस्त को पदभार ग्रहण करने के दौरान सचिव को अपना नोटरी कराया स्टाम्प सौंपकर सिद्धांत तिवारी को अपना प्रतिनिधि बनाने की मंशा जाहिर की। इधर, गांव के सचिव कैलाश योगी का कहना है कि पंचायती राज अधिनियम में कहीं भी पंचायत में सरपंच प्रतिनिधि बनाने का उल्लेख नहीं है।

वहीं सरपंच का कहना है कि वह केवल अपना नाम लखन ही लिख सकता हैं। इसके अलावा उसे और परिजनों को कुछ पढ़ना-लिखना नहीं आता। हंडिया पंचायत सरपंच का पद एसटी वर्ग के लिए आरक्षित है। सरपंच ने जिसे प्रतिनिधि बनाने की बात कही है। वह सिद्धांत सामान्य वर्ग से आता है।

सरपंच बोले- बिना किसी दबाव के बनाया प्रतिनिधि

सरपंच लखनलाल भिलाला ने 50 रुपए के स्टाम्प पर लिखा कि 'मैं बिना किसी दबाव के सिद्धांत पिता समीर तिवारी को अपना प्रतिनिधि नियुक्त करता हूं। उन्होंने तर्क दिया है कि वह स्वयं और परिवार के अन्य सदस्य भी अशिक्षित है। इस कारण मेरी ओर से सिद्धांत तिवारी सभी प्रकार के पंचायत में होने वाले सभी कार्यों का निष्पादन, संचालन कर आय व्यय का पूरा ब्यौरा रखेंगे।

नियम में नहीं है प्रतिनिधि नियुक्त करना

जनपद सीईओ बलवान सिंह मवासे का कहना है कि शासकीय नियमों में चुने गए विधायक या सांसद ही अपने प्रतिनिधि बना सकते है। अन्य किसी भी पद के लिए जनप्रतिनिधि अपना प्रतिनिधि बनाने का कोई प्रावधान नहीं है। अतः हंडिया पंचायत में भी शासन के नियमों का पालन कर उसके अनुसार ही कार्य होगा।

एसटी वर्ग के लिए आरक्षित है सरपंच का पद

हंडिया पंचायत में सरपंच का पद एसटी वर्ग के लिए आरक्षित है। यहां पर लखनलाल भिलाला इस बार सरपंच चुने गए है। लेकिन उन्होंने अपने स्थान पर एक सामान्य वर्ग के व्यक्ति को अपना प्रतिनिधि बनाया है। जो कि आरक्षण प्रक्रिया पर एक बड़ा सवालिया निशान हैं।

खबरें और भी हैं...