पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Harda
  • Collector SP Took Stock Of The Arrangements For Tajiya Immersion, Children's Going To The Ghat Will Be Banned

मोहर्रम महीने का दसवां दिन:कलेक्टर-एसपी ने ताजिया विसर्जन की व्यवस्थाओं का लिया जायजा, बच्चों का घाट पर जाना रहेगा प्रतिबंधित

हरदा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मोहर्रम महीने का दसवां दिन सबसे खास माना जाता है। दस तारीख को कर्बला की जंग में पैगंबर हजरत मोहम्मद के नवासे हजरत इमाम हुसैन की शहादत हुई थी। हजरत इमाम हुसैन ने इस्लाम की रक्षा के लिए खुद को कुर्बान कर दिया था। इस जंग में उनके 72 साथी भी शहीद हुए थे। उन्हीं की याद में ताजिया बनाकर मुस्लिम समाजजन इबादत करते हैं और हुसैन की शहादत को याद करते हैं।

मोहर्रम पर शहर में अलग-अलग स्थानों पर ताजिए बनाए गए। ताजियों का मोहर्रम की 10 और 11वीं तारीख पर विसर्जन किया जाएगा। इस मौके पर जायरीन ने मन्नातें उतारी और जियारत भी की जा रही है। शहर सहित आसपास के गांवों से करीब तीस से अधिक ताजियों को नई सब्जी मंडी में शाम तक रखा जाएगा। वहीं बुधवार को दोपहर बाद विसर्जन किया जाएगा। ताजियों के विसर्जन के लिए जिला प्रशासन ने शहरी क्षेत्र में नगर पालिका को जिम्मेदारी सौंपी है।

मंगलवार को कलेक्टर ऋषि गर्ग, एसपी मनीष कुमार अग्रवाल ने ताजियों के विसर्जन को लेकर करबला घाट पर की जाने वाली व्यवस्थाओं का जायजा लिया। वहीं मुस्लिम समुदाय के पदाधिकारियों से भी यहां विसर्जन के दौरान प्रशासन का सहयोग करने को कहा।

कलेक्टर गर्ग ने कहा कि बारिश की वजह से नदियों में पानी अधिक है, जिसको देखते हुए नदी में भीड़भाड़ और बच्चों का जाना प्रतिबंधित रहेगा। उन्होंने होमगार्ड और पुलिस के जवानों को यहां व्यवस्थाओं को सुचारु बनाने तैनात करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुस्लिम समाज के पदाधिकारियों से कहा कि प्रशासनिक टीम मौके पर मौजूद रहेगी। जिसकी मदद से ताजिया विसर्जित किए जा सकेंगे। जिस पर उपस्थित सभी सदस्यों ने अपनी सहमति दी। इस दौरान एसडीएम, सीएमओ ज्ञानेंद्र यादव सहित पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...