पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेपिस्ट-मर्डरर चाचा की पूरी कहानी:जानवरों के साथ भी गलत काम करता था वहशी; तंग आकर सगे भाई ने ही काट दिया था पैर

शिवपुरी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शिवपुरी में 6 साल की भतीजी की रेप के बाद हत्या करने वाले चाचा को पुलिस ने रविवार काे गिरफ्तार कर लिया। दैनिक भास्कर की टीम जब आरोपी के गांव पहुंची ताे उसकी दरिंदगी और हैवानियत का सच रोंगटे खड़े करने वाला मिला। गांव के लिए नासूर बन चुका आरोपी पुलिस गिरफ्त में आया तो गांववालों ने भी सालों से दिल में दबे राज उगल दिए।

आरोपी का गांव में ऐसा आतंक था कि लड़की और महिलाएं उसके घर के पास से भी नहीं गुजरती थीं। इस हैवान की दरिंदगी का शिकार महिलाएं, लड़कियां ही नहीं, गाय, भैंस, भेड़ और बकरियां तक हो चुकी हैं। इसके वहशीपन से तंग आकर उसके भाई ने ही उसका एक पैर काट दिया था। उसने तीन शादी की। इसमें से दो पत्नियों की मौत हो गई, जबकि एक पत्नी छोड़कर चली गई।

आरोपी के घर के सामने से महिलाएं, लड़कियां क्या पशुओं को भी गुजरने नहीं दिया जाता था।
आरोपी के घर के सामने से महिलाएं, लड़कियां क्या पशुओं को भी गुजरने नहीं दिया जाता था।

5 साल की उम्र से ही हरकतें शुरू कर दीं
गांववालों ने बताया कि आरोपी के आतंक की कहानी तो 5 साल की उम्र से ही शुरू हो गई थी। बचपन से ही आरोपी को चोरी और लूटपाट में मजा आने लगा था। थोड़ा बड़ा हुआ तो मां-बाप, बड़े भाई और दादी को मारना-पीटना शुरू कर दिया। लूटपाट के साथ ही उसकी नजरें लड़कियों और महिलाओं की ओर भी उठने लगीं। वह बस मौके इंतजार में रहता, कोई लड़की या महिला मिले तो उसके साथ छेड़छाड़ या हरकत करने से नहीं चूकता था।

दादी बोली - ऐसे दरिंदे को जिंदा रहने का कोई हक नहीं, उसे फांसी हो।
दादी बोली - ऐसे दरिंदे को जिंदा रहने का कोई हक नहीं, उसे फांसी हो।

माता-पिता ने गांव छोड़ा, दादी के साथ रहता था
आरोपी गांव में अपनी दादी के साथ रहता था। आरोपी की मारपीट से परेशान होकर भाई अलग रहने लगा। माता-पिता भी मजदूरी करने शहर गए तो फिर वापस नहीं आए। आरोपी कोई काम-धंधा नहीं करता है। दादी की माने तो घर के सामान बेचकर या गिरवी रखकर पैसों का जुगाड़ करता है। सरकारी राशन जो मिलता है, उसे भी बेचकर काम चलाता है। उसकी हरकतें ऐसी हैं कि सगे भाई ने ही परेशान होकर 5 साल पहले उसका पैर काट दिया था। हालांकि, पैर कट जाने के बाद भी उसकी हरकतें कम नहीं हुईं। भाई का कहना है कि मैंने सोचा था कि अगर मैं उसका पैर काट दूंगा तो उसका आतंक खत्म हो जाएगा, लेकिन ऐसा हो नहीं सका।

पुलिस गिरफ्त में जाते ही ग्रामीणों ने आरोपी की दरिंदगी की पूरी कहानी सुनाई। उसे पुलिस के शिकंजे में देखने भीड़ जमा हो गई।
पुलिस गिरफ्त में जाते ही ग्रामीणों ने आरोपी की दरिंदगी की पूरी कहानी सुनाई। उसे पुलिस के शिकंजे में देखने भीड़ जमा हो गई।

तीन शादी की, दो पत्नियों की मौत, एक छोड़कर भागी
आरोपी की दादी का कहना है कि आरोपी की 15 साल पहले पहली शादी हुई थी। जिसकी 1 साल बाद संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। गांववालों का कहना है कि आरोपी ने ही उसकी हत्या की थी। दूसरी पत्नी शादी के 2 दिन बाद ही घर छोड़कर भाग गई थी। ग्रामीणों का कहना है कि फिर उसकी तीसरी शादी हुई। डेढ़ साल बाद तीसरी पत्नी की भी डिलीवरी के समय माैत हो गई।

आरोपी ने मासूम की हत्या कर लाश को अनाज रखने की इसी डहरी में छिपा दिया था।
आरोपी ने मासूम की हत्या कर लाश को अनाज रखने की इसी डहरी में छिपा दिया था।

आरोपी के घर के सामने से महिलाएं तो क्या जानवर भी नहीं गुजरते थे
आरोपी का आतंक ऐसा था कि उसके घर के आसपास से लड़कियां और महिलाएं तो क्या गांववाले अपने जानवर भी नहीं गुजरने देते थे। लोगों का कहना है कि वह सरेराह लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करता था। महिलाएं भी उसकी शैतानी हरकतों से नहीं बच पाती थीं। उसने गांव के कई जानवरों के साथ भी गलत किया है। ग्रामीणों के साथ ही दादी का कहना है कि ऐसे दरिंदे को जिंदा रहने का कोई अधिकार नहीं है, उसे तो फांसी होनी चाहिए।

यह है पूरा घटनाक्रम
मध्यप्रदेश के शिवपुरी में 6 साल की बच्ची से रिश्ते में चाचा लगने वाले आरोपी ने पहले रेप किया, फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। घटना तेंदुआ थाना इलाके के इमलिया गांव की है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बच्ची 14 जनवरी से लापता थी। आरोपी ने बच्ची का गला घोंटने के बाद उसका शव बिंडा (गांव में अनाज रखने के लिए बनाई जाने वाली जगह) में छिपा दिया था। बच्ची के परिजनों का कहना है कि 14 जनवरी को गांव से थोड़ी दूर संक्राति का मेला लगा था, जहां गांव के कई लोग गए थे। जब बच्ची घर पर नहीं मिली, तो परिजनों को लगा कि वह भी मेले में गई होगी। बच्ची जब रात तक घर नहीं पहुंची, तो परिजन उसे ढूंढने लगे। 15 जनवरी की शाम आरोपी की दादी ने सरकारी राशन में मिले गेहूं को डालने के लिए बिंडा खोला, तो उसमें मासूम का शव मिला। फिर दादी ने लोगों को इसकी सूचना दी।

रेप के बाद भतीजी का गला घोंटा:​​शिवपुरी में 6 साल की बच्ची की हत्या के बाद आरोपी चाचा ने घर में छिपाई लाश; एक दिन बाद मिला शव