पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %

शिवपुरी में डेंगू का कहर:दस दिन में मिले चार संक्रमित, 450 घरों में मिला डेंगू का लार्वा, अधिकारी बोले- लापरवाही बरती तो झेलना पड़ेगा डेंगू का दंश

शिवपुरी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में भर्ती डेंगू संक्रमित - Money Bhaskar
अस्पताल में भर्ती डेंगू संक्रमित

शिवपुरी में डेंगू भी अब धीरे-धीरे अपने पैर पसारता जा रहा है। पिछले कुछ समय में शिवपुरी में जो डेंगू लार्वा के सर्वे में करीब 450 घरों के अंदर डेंगू का लार्वा मिला था, जिसे स्वास्थ्य विभाग की टीम ने नष्ट कर दिया है। लोगों की लापरवाही के कारण ही इतने घरों में डेंगु के लारवे मिले है। मलेरिया अधिकारी लालजु शाक्य का कहना है कि अगर यही लापरवाही लगातार चलती रही तो, लोगों को डेंगू का प्रकोप झेलना पड़ सकता है। इसलिए सावधान रहें और घरों में कहीं भी पानी जमा न होने दें।

रेड जोन में पुलिस कंट्रोल रूम
जिस जगह डेंगू के अधिक लार्वे मिले हैं, विभाग ने शहर के उन क्षेत्रों को रेड जोन घोषित कर दिया है। इन क्षेत्रों में पुलिस कंट्रोल रूम, हीरो होंडा एजेंसी, पीएस होटल, विवेकानंद रोड, पुराना टोल टैक्स, कृष्णा कॉलोनी, रेंज आफिस, भारतीय विद्यालय, ग्वालियर बाइपास चौराहा आदि शामिल हैं। सर्वे टीम की कमी के कारण अभी भी पूरे शहर में सेम्पल कलेक्शन का काम नहीं हो पाया है। अगर पूरे शहर का सर्वे किया जाए तो यह संख्या और भी बढ़ सकती है।

शहर में फैली गंदगी के कारण बढ़ रहे हैं मरीजों की संख्या
शहर में फैली गंदगी के कारण बढ़ रहे हैं मरीजों की संख्या

आईटीबीपी कैंपस में भी मरीज
सबसे सुरक्षित और स्वच्छ माने जाने वाले आईटीबीपी कैंपस में भी अब तक डेंगू के दो पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। और एक संदिग्ध मरीज को ग्वालियर रैफर किया गया है।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी हालात बिगड़ना शुरू
ग्रामीण क्षेत्रों की हालत डेंगू के कारण बिगड़ना शुरू हो गए हैं। एक मरीज बदरवास के धानेरा गांव में सामने आ गया है। जबकि खतोरा क्षेत्र के एक बच्चे के प्लेटलेट्स सिर्फ 28 हजार हो जाने के कारण, जांच में डेंगू के लक्षण पाए जाने पर बच्चे को ग्वालियर रैफर किया गया है।

जिला मलेरिया अधिकारी, लालजु शाक्य का कहना है कि शहर में साढ़े चार सौ से ज्यादा घरों में डेंगू का लार्वा मिलना इस ओर इशारा करता है कि लोग डेंगू को लेकर सतर्क नहीं हैं। अगर हर गली, मोहल्ले की जांच की जाए तो आंकड़ा बढ़ सकता है। ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की ज्यादा जरूरत है। आम आदमी को ध्यान में रखना होगा कि घर और घर के आस-पास कहीं पानी जमा नहीं होने दें। जिले में अब तक चार डेंगू के कन्फर्म केस सामने आ चुके हैं।

खबरें और भी हैं...