पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Fiancé Had Said Earlier That Nothing Was Needed, As Soon As The Engagement Was Done, The Car Started Asking, The Girl Had Given Her Life By Drinking Acid, After Investigation

ग्वालियर में मंगेतर पर केस:पहले कहा था- दहेज नहीं चाहिए, सगाई के बाद कार की डिमांड; युवती ने पी लिया था तेजाब

ग्वालियर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Money Bhaskar
फाइल फोटो

शादी से पहले तेजाब पीकर जान देने वाली युवती के मामले में जांच के बाद आरोपी मंगेतर पर पुलिस ने खुदकुशी के लिए विवश करने की FIR दर्ज की है। शादी तय होते समय लड़के के परिजन बोले थे उन्हें दहेज में कुछ नहीं चाहिए। पर जैसे ही सगाई हुई और शादी की तारीख निकल आई तो दूल्हा कार मांगने लगा।

मंगेतर की कार की मांग से रिश्ता टूटने पर आ गया। सपने टूटकर बिखरने पर युवती ने तेजाब पी लिया था। अस्पताल में उसने तड़पते हुए दम तोड़ा था। पर मौत से पहले उसने आखिरी बयान में होने वाली पति की कार मांगने से दुखी होने पर तेजाब पीने की बात कही थी। घटना 16 सितंबर 2021 की है। इस मामले में पुलिस ने जांच के बाद आरोपी मंगेतर के खिलाफ अब मामला दर्ज किया है।

यह था पूरा मामला
ग्वालियर देहात के बेलगढ़ा स्थित देवरीकला निवासी 19 वर्षीय आरती कुमारी की सगाई फरवरी माह में टेकनपुर निवासी नरेद्र कुमार से तय हुई थी। नरेन्द्र कुमार प्राइवेट जॉब करता था। रिश्ता तय होने से पहले नरेन्द्र और उनके परिजन ने दहेज में कुछ भी नहीं मांगा था। उनका कहना था कि सिर्फ अच्छी लड़की चाहिए थी वो हमें मिल गई। इसके बाद सगाई हो गई। सगाई होने के बाद लड़का-लड़की के बीच मोबाइल पर बातचीत होने लगी। सितंबर 2021 में अचानक नरेन्द्र ने आरती से शादी से पहले कार व नगदी की मांग करना शुरू कर दिया। अचानक नई मांग आने और आर्थिक स्थिति अच्छी ना होने पर आरती ने नरेन्द्र को काफी समझाया, लेकिन वह नहीं माना तो उनके बीच विवाद हो गया और गुस्से में आरती ने तेजाब पी लिया। जब उसकी हालत बिगड़ी तो परिजन ने उसे उपचार के लिए भर्ती कराया। जहां पर उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस मामले में पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर मर्ग कायम कर लिया था। अब जांच के बाद कार मांगकर आरती को खुदकुशी के लिए विवश करने पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

मरने से पहले दिए थे बयान
आरती ने दम तोडऩे से पहले पुलिस तथा प्रशासनिक अफसरों को बयान देकर पूरी घटना की जानकारी दी थी और बताया था कि नरेन्द्र को उसके परिजनों ने भी समझाया था, लेकिन वह समझने को तैयार नहीं था, इसलिए उसने तेजाब पिया था।

पुलिस का कहना
बेलगढ़ा थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि युवती द्वारा तेजाब पीकर सुसाइड करने के मामले में जांच के बाद युवती के मंगेतर पर आत्महत्या के लिए विवश करने के साथ ही दहेज एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...