पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Tension Due To Breaking Of Statue, Bhim Army Did A Ruckus In Chimak, Administration, Police Barely Handled The Situation, FIR Against Those Who Broke The Statue, Jammed

आंबेडकर प्रतिमा तोड़ी, ग्वालियर में तनाव:नाराज भीम आर्मी ने किया चक्काजाम; पुलिस ने हाथ जोड़कर मामला शांत कराया, FIR

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छीमक मे आंबेडकर की मूर्ति का हाथ तोड़ा, तनाव, पुलिस तैनात

ग्वालियर के चीनोर स्थित छीमक में संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर की मूर्ति के हाथ तोड़ने पर हंगामा खड़ा हो गया है। असामाजिक तत्वों ने मूर्ति तोड़ दी। जिस पर स्थानीय लोगों और भीम आर्मी के सदस्यों ने हंगामा खड़ा कर दिया। कुछ ही देर में तनाव बढ़ा और पुलिस को मौके पर पहुंचना पड़ा। भीम आर्मी ने चौराहा पर जाम लगा दिया। हालात बिगड़ते देख SDM, SDOP सहित काफी मात्रा में फोर्स को छीमक के देवरा रोड पर तैनात कर दिया गया। हर तरह के हंगामे और उपद्रव को रोकने के लिए पुलिस तैयार थी।

आखिर में नई मूर्ति बनवाने और आरोपियों पर FIR की बात पर प्रदर्शन कर रहे लोग माने। पुलिस ने किसी तरह स्थिति को संभाला है। रविवार रात पुलिस ने इस मामले में दो FIR भी दर्ज की हैं। मूर्ति तोड़ने वाले अज्ञात आरोपी और जाम लगाकर कोविड गाइडलाइन का उल्लघंन करने वालों पर भी मामला दर्ज किया है।

चक्काजाम करते स्थानीय लोग और भीम आर्मी के सदस्य
चक्काजाम करते स्थानीय लोग और भीम आर्मी के सदस्य

चीनोर के छीमक गांव स्थित देवरा रोड पर आंबेडकर पार्क है, इसमें डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिम स्थापित है। दो दिन पहले कुछ असामाजिक तत्वों ने मूर्ति का एक हाथ तोड़ दिया। जब रविवार को मूर्ति पर स्थानीय लोगों की नजर पड़ी तो वहां हंगामा खड़ा हो गया। इस तरह संविधान निर्माता की प्रतिमा को खंडित करने पर वहां तनाव फैल गया। सूचना मिलते ही भीम आर्मी ने मोर्चा संभाल लिया। रात को वहां चक्काजाम कर दिया गया। कुछ ही देर में पूरे गांव में हंगामा होने लगा तो सूचना जिला प्रशासन और पुलिस के पास पहुंची। हालात बेकाबू होते उससे पहले ही SDM प्रदीप शर्मा, SDOP भितरवार अभिनव बारंगे पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। यहां पुलिस ने स्थिति संभाली। भीम आर्मी ने चक्काजाम गांव के सभी रास्ते बंद कर दिए थे।

तनाव के बाद छीमक गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है
तनाव के बाद छीमक गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है

इन मांगों पर माने चक्काजाम कर रहे लोग
- मूर्ति टूटने के बाद चक्काजाम कर रहे भीम आर्मी व स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से लिखित मांग की थी कि तत्काल नई मूर्ति लगवाई जाए। यहां LED लाइट्स, CCTV कैमरे लगवाए जाएं। जिससे असामाजिक तत्व यहां न बैठें। तोड़फोड़ करने वालों पर जल्द FIR की जाए। पुलिस ने तत्काल मूर्ति लगवाने का आश्वासन, आरोपी पर मामला दर्ज करने के साथ ही अन्य मांगों को जल्द पूरा करने का वादा किया तब जाकर चक्काजाम कर रहे लोग माने और रास्ते से हटे।
गांव से लेकर रोड तक पुलिस
तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स काफी मात्रा में तैनात किया गया था। मूर्ति स्थल से लेकर गांव और मुख्य सड़क मार्ग तक पुलिस ही पुलिस नजर आ रह थी। आशंका थी कि भीड़ उग्र हो सकती है, लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं और स्थिति नियंत्रण में रही।
पुलिस ने दो मामले किए दर्ज
इस पूरे मामले में पुलिस ने सबसे पहले स्थानीय नागरिक केशव जाटव की शिकायत पर अज्ञात मूर्ति तोड़ने वाले पर FIR दर्ज कर ली है। इसके अलावा पुलिस ने हंगामा कर सड़क पर चक्काजाम करने वाली भीड़ पर भी मामला दर्ज किया है। कोविड गाइड लाइन का पालन नहीं करने वाले नेहरू केन, प्रकाश जाटव, ओमप्रकाश जाटव प्रोफेसर ग्वालियर, सूर्या जाटव, कल्याण, प्रवेन्द्र,गेंदा व मोहन सहित अन्य पर मामला दर्ज किया गया है।