पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Servant To Pay Off Debt Of 3 Lakhs, Missing With Owner's Jewelery Worth Rs 25 Lakhs, Three Arrested, 275 Grams Of Gold Recovered, One Accused Absconding

कर्ज पटाने दिया मालिक को धोखा:मालिक के 25 लाख के गहने लेकर हुआ था गायब, तीन गिरफ्तार, 275 ग्राम सोना बरामद, एक आरोपी फरार

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़े गए बदमाशों से मिला सोना, नकदी और आईफोन जो उन्होंने गोल्ड बेचकर खरीदा था - Money Bhaskar
पकड़े गए बदमाशों से मिला सोना, नकदी और आईफोन जो उन्होंने गोल्ड बेचकर खरीदा था
  • - कोतवाली पुलिस को मिली सफलता मुरैना के पास से पकड़े आरोपी

ग्वालियर में सराफा कारोबारी के यहां से 25 लाख रुपए के गहने लेकर गायब हुआ नौकर अपने दो साथियों के साथ गिरफ्तार हो गया है। उसके पास से 275 ग्राम सोना बरामद हो गया है, एक साथी अभी फरार है जिसके बाद 215 ग्राम सोना है। नौकर पर 3 लाख रुपए का कर्ज था। जिसे पटाने के लिए उसने यह पूरी वारदात का ताना बाना बुना था। 490 ग्राम सोना लेने के बाद वह अपने दोस्तों के साथ दिल्ली तक निकल गया था। पर रास्ते में एक साथी ने डबल क्रॉस किया, जिस पर उसे वापस लौटना पड़ा। इसी समय पुलिस ने नौकर और उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से 275 ग्राम सोना, आईफोन व 10 हजार रुपए नकद बरामद कर लिए हैं। चौथे आरोपी की तलाश की जा रही है।

सराफा कारोबारी का सोना लेकर गायब हुए नौकर को गिरफ्तार करने के बाद खुलासा करती पुलिस
सराफा कारोबारी का सोना लेकर गायब हुए नौकर को गिरफ्तार करने के बाद खुलासा करती पुलिस

एसपी अमित सांघी ने बताया कि 10 अक्टूबर को लड्‌डूवाला कॉम्प्लेक्स में अमित पुत्र गोपाल दास गर्ग की जेपी ज्वैलर्सके नाम से दुकान है। दुकान पर काम करने वाला नौकर शुभम शर्मा 490 ग्राम सोने के जेवरात (25 लाख रुपए)पर सील लगवाने के लिए निकला था उसके बाद वह गायब ही हो गया। इस पर दुकानदार ने कोतवाली थाने मे नौकर सहित उसके कुछ अन्य दोस्तों पर शंका जाहिर करते FIR दर्ज कराई थी। पुलिस ने फुटेज भी निकलवाए तो नौकर गहने लेकर जाता हुआ नजर आ गया। इसके बाद पुलिस उसकी तलाश में जुट गई। पुलिस का कहना है कि मुखबिर से पता चला कि शुभम और उसका साथी रिठोरा तिराहा मालनपुर में देखे गए है। खबर मिलते ही TI राजीव गुप्ता अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे तो शुभम और राजेश को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की तो इन्होने अपने तीसरे साथी विट्टू पठान का नाम भी बता दिया। कुछ देर बाद पुलिस ने उसे भी दबोच लिया। तीनों से 275 ग्राम सोना मिला है। बाकी सोना इनके चौथे साथी नत्थी शर्मा पर है।
कर्जा तो नहीं पटा लेकिन अपराधी बन गए
पूछताछ में पता चला कि शुभम पर करीब 3 लाख का कर्जा था। कर्जदार उसे परेशान कर रहे थे। उसने यह बात अपने दोस्तो ंको बताई। उसने यह भी बताया कि सोना लेकर सील लगवाने जाता है। फिर क्या था चोरों ने मिलकर योजना बनाई फिर शुभम गहने लेकर भाग निकला। शुभम ने सोचा था कि गहने से कर्जा पटा देगा। लेकिन कर्जा तो नहीं पता वह अपराधी जरूर बन गए।
दिल्ली, हरिद्वार सहित कई शहर घूम
सोना लेकर भागने के बाद शुभम और उसके तीनों साथी दिल्ली पहुंचे। वहां रूकने के बाद मथुरा आए। यहां घूमने के बाद हरिद्वार चले गए। वहां भी पर एक दिन व्यतीत किया। यहां से वापस दिल्ली चले गए। यहां से फिर ग्वालियर आए तो पकड़े गए।
चौथे साथी पर शक हुआ तो ग्वालियर आए और पकड़े गए
दिल्ली सहित अन्य कई शहर घूमने के बाद जब यह चारों लोग मथुरा पहुंचे तो नत्थी उनसे बोला कि वह ग्वालियर में माहौल देखने जा रहा है। वहां से लौटकर फिर बताएगा कि क्या करना है। नत्थी के पास भी उस सोने मे से करीब आधा सोना था। उसके जाने के बाद इन तीनों को शक हुआ कि नत्थी उन्हें बेवकुफ बनाकर चला गया है। इसलिए यह तीनों भी उसके पीछे-पीेछे ग्वालियर आ गए। नत्थी तो पुलिस के हाथ नहीं आया लेकिन यह तीनों पुलिस के हत्थे चढ़ गए।
यह जेवर और सामान मिला
8 जोडी मंगलसूत्र, 5 जेंटस अगुठी, 19 जोडी सोने की बाली, 5 जोडी झाले, एक सोने की चेन, एक मोबाइल और 10 हजार रुपए नगद बरामद हुए है।