पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Municipal Engineers Were Doing Repairs To The Roads, Suddenly The Collector Came Out, Came Out On The Road And Reprimanded, Said Quality Is Not Compromised

ग्वालियर कलेक्टर को आया गुस्सा:ननि इंजीनियर सड़कों का करवा रहे थे काम चलाऊ पेच रिपेयरिंग, कलेक्टर ने देखा और कहा- क्वालिटी से समझौता नहीं

ग्वालियर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयेन्द्रगंज  में सड़क के काम चलाऊ पेच रिपेयरिंग पर नाराज होते ग्वालियर कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह। - Money Bhaskar
जयेन्द्रगंज में सड़क के काम चलाऊ पेच रिपेयरिंग पर नाराज होते ग्वालियर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह।
  • प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट ने जर्जर सड़कों का 10 दिन में पेच रिपेयरिंग करने का अल्टीमेटम दिया था

आखिरकार ग्वालियर में सड़कों की पेच रिपेयरिंग को लेकर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह को गुस्सा आ गया। शहर में जर्जर सड़कों की पेच रिपेयरिंग का काम चल रहा है। जयेन्द्रगंज में नगर निगम के इंजीनियर और उपायुक्त प्रेम पचौरी पेच रिपेंयरिंग करा रहे थे। इसी समय वहां से कलेक्टर विक्रम सिंह का वहां से निकलना हुआ। सड़क पर काम चलाऊ परत बिछाते देख वह वहीं रूक गए। पहले काम को देखा उसके बाद नगर निगम के इंजीनियरों को फटकार लगाई है। कलेक्टर सिंह ने साफ शब्दों में चेतावनी दी है कि सड़क की पेच रिपेयरिंग में क्वालिटी से समझौता बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस पर प्रभारी नगर निगम आयुक्त को भी स्पष्ट रूप से कहा है कि वह क्वालिटी पर फोकस कराएं। साथ ही कहा है कि जहां-जहां इस तरह की पेच रिपेयरिंग की गई है वहां फिर से काम करें। कलेक्टर के तेवर देखकर अफसर यहां वहां भागते नजर आए हैं।

नगर निगम के सड़क पेच रिपेयरिंग प्रभारी प्रेम पचौरी पर नाराज होते कलेक्टर ग्वालियर
नगर निगम के सड़क पेच रिपेयरिंग प्रभारी प्रेम पचौरी पर नाराज होते कलेक्टर ग्वालियर

मध्य प्रदेश में इस समय सड़कों को लेकर सरकार की काफी फजीहत हो चुकी है। चाहे वह भोपाल राजधानी की सड़कें हो या केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और नरेन्द्र सिंह तोमर का गढ़ ग्वालियर हो। हाल ही में ग्वालियर प्रवास पर आए प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने भी जर्जर सड़कों पर जिला प्रशासन को आड़े हाथ लिया था। प्रभारी मंत्री सिलावट ने अफसरों को 10 दिन का अल्टीमेटम दिया था। साथ ही कहा था कि शहर की सड़कों की देखभाल और मेंटेनेंस की जिम्मेदारी नगर निगम की है। 10 दिन बाद आऊंगा तो सड़कें दुरूस्त मिलनी चाहिए। प्रभारी मंत्री की फटकार के बाद नगर निगम के अमले ने शहर के प्रमुख स्थलों की सड़कों पर पेचवर्क शुरू कर दिया है। पर यह काम स्थायी न होकर काम चलाऊ ढंग से किया जा रहा है। इसकी पोल गुरुवार शाम उस समय खुली जब ग्वालियर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह अचानक जयेन्द्रगंज पहुंच गए। वह निकले तो निरीक्षण के लिए थे, लेकिन सड़क बनती देखी तो वहीं रूक गए। उन्होंने देखा कि जर्जर सड़क पर गड‌्ढों में पतला से डामर और गिट्टी डालकर काम चलाऊ पेच रिपेयरिंग की जा रही थी। इस पर वह तत्काल वाहन से उतरे और सड़क बनवा रहे नगर निगम के उपायुक्त और इंजीनियर प्रेम कुमार पचौरी की क्लास ले ली। उन्होंने सड़क की पेच रिपेयरिंग की क्वालिटी को हल्का बताकर कड़ी फटकार लगाई है। साथ ही चेतावनी दी है कि यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी।
निगम के इंजीनियर मॉनीटिरंग करें, क्वालिटी से समझौता नहीं
कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने निगम के पेच रिपेयरिंग प्रभारी प्रेम पचौरी और भवन अधिकारी अहिरवार से कहा कि इतना गुणवत्ताहीन पेच रिपेयरिंग का कार्य क्यों हो रहा है। आप लोग क्या देख रहे हैं। काम की क्वालिटी की जवाबदारी इंजीनियरों की है। कहीं पर भी काम में क्लालिटी कम मिली तो उस क्षेत्र के इंजीनियर के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने निगम के इंजीनियरों को यह भी निर्देशित किया है कि शहर में जिन सड़कों पर पेच रिपेयरिंग का कार्य किया जा रहा है, वहां पर निगम के इंजीनियर स्वयं उपस्थित होकर कार्य की मॉनीटरिंग करें। कहीं पर भी क्वालिटी से समझौता नहीं मिलना चाहिए।
गुणवत्ता पर ध्यान दें
कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि नगर निगम के प्रभारी आयुक्त आशीष तिवारी से भी कहा है कि वे कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। कहीं पर भी गुणवत्ताहीन कार्य मिले तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें। कलेक्टर ने जयेन्द्रगंज मार्ग के पश्चात अन्य मार्गों पर किए जा रहे पेच रिपेयरिंग कार्य भी देखे हैं।

खबरें और भी हैं...