पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • In JU, The Brave Soldiers Of BSF Will Do Stunts Riding On A Bike, A High Speed Bike Will Come Out From The Middle Of The Burning Ring.

रोंगटे खड़े कर देने वाला 'डेयर डेविल शो':BSF के जांबाजों के स्टंट देखते रह गए लोग, बाइक दौड़ाते हुए जलती रिंग से निकला जवान

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर के जीवाजी यूनिवर्सिटी ग्राउंड में रविवार शाम BSF के जांबाजों के स्टंट को देख लोगों ने दांतों तले अंगुलियां दबा लीं। एक बाइक पर 16 फीट की सीढ़ी लगाकर टॉप पर बैठा था ड्राइवर, बाइक खुद चलती जा रही थी। टर्न पर भी बाइकर्स हाइड से नीचे नहीं आया। यह तो एक दृश्य था। ऐसे कई खतरनाक स्टंट दिखाए गए, जिसे देखकर लोगों को जवानों की वीरता का अंदाजा लग गया। लोगों को लग रहा था कि कहीं कोई फिल्म तो नहीं। स्टंट की शुरुआत में ही बाइकर्स ने तेज रफ्तार में बाइक को दौड़ाते हुए आग से जलती रिंग के बीच से निकाल दिया।

यह स्टंट कर रहे थे BSF के जांबाज, जिनके नाम अभी तक 17 वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं। 34 बाइक पर सवार 52 सदस्यों का यह जांबाज दल देशभर में कई जगह हुनर का प्रदर्शन कर चुका है। ग्वालियर में डेयर डेविल शो के बाद अब भोपाल और इंदौर में भी शो होने हैं।

बाइक पर 16 फीट ऊंची सीढ़ी लगाई, सीढ़ी पर एक जवान एक बाइक पर पीछे बैठा, लेकिन गाड़ी कोई नहीं चला रहा।
बाइक पर 16 फीट ऊंची सीढ़ी लगाई, सीढ़ी पर एक जवान एक बाइक पर पीछे बैठा, लेकिन गाड़ी कोई नहीं चला रहा।

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर “आजादी का अमृत महोत्सव” कार्यक्रम के तहत BSF (सीमा सुरक्षा बल) बाइकर्स टीम “जांबाज” की ओर से “डेयर डेविल शो” किया जा रहा है। इसी कड़ी में रविवार को BSF अकादमी टेकनपुर के तत्वावधान में केन्द्रीय मोटरगाड़ी प्रशिक्षण स्कूल की बाइकर्स टीम ने शो किया। पहले बाइक ने आग से जलते हुए रिंग से बाइक निकाल कर लोगों को दांतों तले उंगली दबाने पर मजबूर कर दिया। इसके बाद एक के बाद एक कलाबाजी दिखाते चले गए। बाइक पर हैंडल बिना छुए बाइक चलाना, एक बाइक पर चार-चार लोग बिना हैंडल पकड़े स्टंट करते नजर आए।

ट्रेंड डॉग ने भी दिखाए स्टंट
शो के बीच BSF के ट्रेंड डॉग स्क्वॉड ने भी स्टंट दिखाए हैं। BSF के सिखाए डॉग सिर्फ एक छलांग में बस की छत पर पहुंच गए। गाड़ी में छिपे आतंकवादी को कैसे पकड़ा और आंदोलनकारियों को किस तरह खदेड़ा गया जाता है, यह स्टंट करके दिखाया गया।

34 बाइक पर 52 बाइकर्स
टीम के कैप्टन अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि BSF के 2.5 लाख जवानों में से आधा सैकड़ा चुनिंदा जवानों को लेकर यह दल बनाए गए हैं। एक जांबाज को तैयार करने में 3 से 4 साल लगते हैं। कड़े अभ्यास के बाद स्टंट करने टीम उतरती है। टीम को एक शो करने से पहले 2 से 3 महीने की प्रैक्टिस करनी होती है। लोगों को देखने में आसान लगता होगा, लेकिन उसके पीछे हमारी टीम की मेहनत रहती है।

2 अक्टूबर को प्रैक्टिस में एक की जान भी जा चुकी है
कैप्टन अवधेश कुमार ने बताया कि बहुत प्रैक्टिस के बाद स्टंट करते हैं, लेकिन जान का खतरा हमेशा रहता है। हाल ही में 2 अक्टूबर को अभ्यास के दौरान हमने एक जांबाज को खो दिया है। अभी जांबाज दल में 52 की जगह 51 सदस्य हैं। एक जांबाज को तैयार करने में कड़ी मेहनत लगती है।

प्रदेश के भोपाल और इंदौर में होंगे शो
BSF अकादमी टेकनपुर के आईजी जेएस ओबरॉय ने बताया कि दो राज्यों में शो करने के बाद अब मध्य प्रदेश के ग्वालियर में शो किया है। यहां यह शो करना इसलिए खास था कि यहां BSF है। इसके बाद भोपाल फिर इंदौर में शो किए जाएंगे। अमृत महोत्सव के समापन 15 अगस्त 2022 को श्रीनगर में शो पूरा करने के साथ किया जाएगा। शो में आईजी BSF टेकनपुर जेएस ओबरॉय, जीवाजी यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रोफेसर संगीता शुक्ला, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, एसपी अमित सांघी समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।