पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58649.681.76 %
  • NIFTY17469.751.71 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479790.62 %
  • SILVER(MCX 1 KG)612240.48 %

सरकारी रिपोर्ट में खुलासा:बाढ़ और रोजी-रोटी की तलाश के कारण पुश्तैनी गांवों से 7 माह में 60 हजार लोगों ने किया पलायन

ग्वालियर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रोजी-रोटी की तलाश और बीते महीने डबरा-भितरवार में आई बाढ़ के कारण ग्वालियर के ग्रामीण इलाकों से लोग बड़ी तादाद में दूसरे स्थानों के लिए पलायन कर रहे हैं। इसका खुलासा हुआ है वैक्सीनेशन अभियान के दौरान तैयार हुई लिस्ट से। जिला प्रशासन, पंचायत, स्वास्थ्य व शिक्षा विभाग की टीम ने जनवरी 2021 की मतदाता सूची से मिलान करते हुए 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य तय किया है।

अब शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में इन मतदाता सूचियों के आधार पर ही वैक्सीन लगाई जा रही है। जिले का ग्रामीण क्षेत्र मुरार, बरई, भितरवार और डबरा ब्लॉक में बंटा हुआ है। इन चारों ब्लॉक में 255 ग्राम पंचायत हैं जिनमें 4 लाख 45 हजार 517 मतदाता दर्ज हैं, लेकिन वैक्सीन की सूची बनी तो सामने आया कि इनमें से 64 हजार 235 लोग अब है ही नहीं। इनमें से 3217 लोगों की मृत्यु होने की सूचना वैक्सीनेशन टीमों ने प्रमाणीकरण पत्र में दी है और 61 हजार 18 लोग गांव छोड़कर जा चुके हैं।

एसीईओ बोले-लोगों के पलायन की समीक्षा कर रहे
ग्रामीण क्षेत्र में जनवरी 2021 की मतदाता सूची से मिलान करके 100% वैक्सीनेशन किया जा रहा है। जो लोग नौकरी एवं व्यापार के लिए और बाढ़ के कारण गांव छोड़कर जा चुके हैं या जिनकी मृत्यु हो गई है। उन लोगों की लिस्ट अलग बनाई गई है। इन लिस्टों के आधार पर गांव छोड़ने वाले लोगों के बारे में ये समीक्षा की जा रही है कि आखिर इतनी बड़ी संख्या में गांव से लोग क्यों जा रहे हैं।
- विजय दुबे, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत